रिपोर्ट्स के अनुसार -बिहार, असम,बंगाल,यूपी, मुंबई, चेन्नई और गुजरात में ईद के चांद दिखने की खबर आ रही है.

भारत में ईद 5 जून को मनाई जाएगी. छले साल के विपरीत, इस साल सऊदी अरब के एक दिन बाद यानि की 5 जून को भारत और पाकिस्तान में ईद-उल-फितर का त्‍यौहार मनाया जाएगा। अगर भारत में आज रात चांद का दीदार हुआ या शहादत हुई तो कल (बुधवार) को ईद मनाई जा सकती है.

दुनिया के सभी देशों में ईद की तारीख की घोषणा करने के तरीके अलग-अलग हो सकते हैं लेकिन त्योहार की पुष्टि चांद देखकर ही की जाती है. ईद का चांद देखने की प्रक्रिया इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार होती है. खास बात है कि पूरे विश्व में एक ही दिन ईद नहीं मनाई जाती है, हालांकि सभी देशों में महज एक या दो दिन का फर्क होता है. कई देशों के मुस्लिम लोग खुद चांद न देखने के बजाय उन अधिकारियों पर निर्भर होते हैं जिन्हें चांद देखने की जिम्मेदारी दी जाती है. इसके लिए वहां की सरकारें कमिटियां भी नियुक्त करती हैं. अगर भारत की बात करें तो यहां चांदरात पर लोग चांद देखकर ईद का पता लगाते हैं. साथ ही देशभर के मुस्लिम संगठन, मदरसे संगठन या मस्जिद कमेटियां भी ईद के चांद देखकर तारीख की घोषणा करते हैं. वहीं काफी संख्या में लोग और कुछ देश खगोल विज्ञान की मदद से भी ईद की तारीख का पता लगाते हैं.

मान्‍यता है कि पैगम्बर हजरत मुहम्मद ने बद्र के युद्ध में विजय हासिल की थी, इसी खुशी में ईद उल-फितर (Eid Ul Fitr) मनाई जाती है. माना जाता है कि पहली बार ईद उल-फितर 624 ईस्वी में मनाई गई थी. इस दिन मीठे पकवान बनाए और खाए जाते हैं. अपने से छोटों को ईदी दी जाती है. दान देकर अल्लाह को याद किया जाता है. इस दान को इस्लाम में फितरा कहते हैं. इसीलिए भी इस ईद को ईद उल-फितर (Eid Ul Fitr) कहा जाता है. इस ईद में सभी आपस में गले मिलकर अल्लाह से सुख-शांति और बरक्कत के लिए दुआएं मांगते हैं.

Load More

Eid ul Fitr 2019,Eid Mubarak 2019, Chand ka time today: ईद मुस्‍ल‍िम धर्म का बड़ा त्‍यौहार है जिसे पूरी दुनिया में मनाया जाता है. ईद उल-फितर (Eid ul Fitr 2019) को रमजान का चांद डूबने और ईद (Eid Mubarak) का चांद नजर आने पर मनाया जाता है. 30 रोजों के बाद जब चांद दिखाई देता है तब ईद के मुबारक दिन की शुरुआत होती है. बता दें कि सऊदी अरब में कल रात चांद दिखने के बाद मंगलवार को ईद मनाई जा रही है और उम्मीद है कि भारत में मंगलवार की रात को ईद का चांद दिखने या शहादत होने के बाद बुधवार यानि आज (5 जून 2019) को ईद मनाई जा सकती है। अगर भारत में आज रात ईद का चांद नहीं दिखता है तो 6 जून को ईद मनाई जाएगी। आइए जानते हैं नई दिल्ली में आज किस समय चांद निकल सकता है.

दुनिया के सभी देशों में चांद देखने के बाद ही ईद (Eid Mubarak 2019) का त्योहार मनाया जाता है. क्योंकि इस्लामिक कैलेंडर चांद के मुताबिक बनता है. सभी देशों की ईद (Eid Mubarak 2019) में महज एक या दो दिन का अंतर होता है. देशभर के मुस्लिम संगठन, मदरसे संगठन या मस्जिद कमेटियां भी ईद (Eid Mubarak 2019) का चांद देखकर तारीख की घोषणा करते हैं.

बता दें कि ईद के दिन की शुरुआत ईद (Eid Mubarak 2019) की नमाज से होती है. सभी मुस्लिम पुरुष नए कपड़े पहनकर ईद (Eid Mubarak) की नमाज अदा करने ईदगाह या मस्जिद जाते हैं. कुछ मुस्लिम महिलाएं भी ईद की नमाज पड़ती हैं. नमाज के बाद लोग एक दूसरे से गले मिलकर ईद (Eid Mubarak 2019) की मुबारकबाद देते हैं.

गौरतलब है कि पिछले साल ईद (Eid Mubarak 2019) जून के मध्य में आई थी, लेकिन इस साल की ईद ((Eid Mubarak) जून के शुरुआती दिनों में मनाई जाएगी.