राजस्थान में हुए स्थानीय निकाय यानी शहर की सरकार के चुनाव में सत्ता पर काबिज कांग्रेस ने बीजेपी को काफी पीछे छोड़ दिया है.कांग्रेस को कुल 961 और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को 737 सीटों पर जीत हासिल हुई है.

राजस्थान में फिर एक बार कांग्रेस की हवा चली. निकाय चुनावों में पार्टी ने बीजेपी को क्लीन बोल्ड कर दिया. बड़ी बात तो ये है कि कांग्रेस ने बीजेपी का गढ़ समझे जाने वाले शहरी क्षेत्रों में भी जीत हासिल की है. 1st India के अनुसार राजस्थान के  17 नगर परिषद में से 6 का परिणाम सामने आ गया है. 6 में से 4 नगर परिषद कांग्रेस ने फतह की है. वहीं 2 पर बीजेपी तो एक पर निर्दलीयों के हाथ चाबी लगी है. 

फलोदी  निकाय चुनाव में कांग्रेस ने ऐतिहासिक जीत हासिल करते हुए बोर्ड बनाने के लिए स्पष्ट बहुमत हासिल कर लिया है. 40 सीटों में कांग्रेस ने 27 सीटों पर विजय हासिल किया है. बीजेपी के खाते में महज 9 सीट मिली है.

डीडवाना नगरपालिका में कांग्रेस ने बीजेपी को जबरदस्त पटकनी दी है. वहां 40 वार्ड में से 25 पर कांग्रेस ने जीत हासिल की वहीं बीजेपी 5 सीटों पर ही सिमट गई है. कांग्रेस के समर्थक ख़ुशी में आतिशबाजी कर रहे हैं.

राजस्थान के सबसे अहम जिलों में से एक चित्तौड़गढ़ के रावतभाटा में इस बार कांग्रेस की निकल पड़ी है.  20 साल बाद यहां देश की सबसे पुराणी पार्टी को बहुमत मिला है. कांग्रेस को इस बार यहां  29 वार्डों में कांग्रेस ने जीत दर्ज की है तो वहीं भाजपा सिर्फ 9 वार्डों में सिमट कर रह गई. जबकि दो वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है. 

महवा नगर पालिका से चौकाने वाले नतीजे सामने आ रहे हैं. यहां कांग्रेस व बीजेपी पर निर्दलीय भारी पड़ गए है.   25 वार्ड में से 13 वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी है. वहीं कांग्रेस ने 8 वार्डों में तो भाजपा ने सिर्फ 4 वार्डों में जीत दर्ज की है. 

राजसमंद के नाथद्वारा में हुए निकाय चुनावों के नतीजे भी आ रहे हैं. वहां कांग्रेस ने कमाल किया है.  पार्टी को 23 सीटों पर सफलता मिली है. 6 सीटों पर बीजेपे और एक पर निर्दलीय की जीत हुई है. 
 
राजसमंद के नाथद्वारा में हुए निकाय चुनावों के नतीजे भी आ रहे हैं. वहां कांग्रेस ने कमाल किया है.  पार्टी को 23 सीटों पर सफलता मिली है. 6 सीटों पर बीजेपे और एक पर निर्दलीय की जीत हुई है. 
 

Rajasthan Nagar Palika, Nagar Parishad Election Results: राजस्थान में 16 नवंबर को हुए नगरीय निकायों के चुनावों में सीएम अशोक गहलोत और उनके डिप्टी सीएम सचिन पायलट का जादू चलता नजर आ रहा है. पुष्कर, भरतपुर, डीडवाना, सूरतगढ़, फलौदी, कैथून, बीकानेर, माउंटआबू, कोटा, उदयपुर, झुंझुनूं की ज़्यादातर क्षेत्रों पर कांग्रेस उम्मीदवारों ने जीत दर्ज कर ली है.  

चूरू नगर परिषद पर कांग्रेस ने अपना कब्ज़ा जमा लिया है. वहां. कांग्रेस को 23 सीटें मिलीं हैं तो वहीं भारतीय जनता पार्टी को महज 9 सीटों पर संतुष्ट होना पड़ा. निर्दलीय 5 सीट जीतें हैं. 

Load More

Rajasthan Nikay Chunav Results: राजस्थान में आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सबसे बड़ी अग्नि परीक्षा है. वहां 16 नवंबर को हुए नगरीय निकायों के चुनावों के नतीजे आ रहे हैं. सूबे के कुल 49 नगरीय निकायों में मतदान हुआ था. यह गहलोत के सीएम बनने के बाद पहले निकाय चुनाव हैं. इन चुनावों के नतीजों पर जयपुर से लेकर दिल्ली तक नजर है. 49 निकायों में कुल 2105 वार्ड में चुनाव हुए हैं. वहीं, 14 वार्डों में पार्षद निर्विरोध चुने जा चुके हैं. इलेक्शन इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (EVM) से हुए है इसलिए उम्मीद है कि सभी नतीजे दोपहर तक आ जाएंगे.

बात दें कि इन निकाय चुनावों में 71.53 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त पीएस मेहरा ने बताया कि सभी निकायों में मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ. सर्वाधिक मतदान अजमेर जिले की नसीराबाद नगरपालिका में 91.57 प्रतिशत दर्ज हुआ, जबकि सबसे कम उदयपुर नगर निगम में 57.84 प्रतिशत मतदान हुआ.

ज्ञात हो कि 2014 में हुए 46 नगर निकायों में से जयपुर, जोधपुर और कोटा में चुनाव स्थगित किए जाने के कारण 43 नगर निकाय और छह नवगठित नगर पालिकाओं सहित 49 निकायों में आम चुनाव करवाए गए हैं.