Jammu-Kashmir: कश्मीर में इस महीने अब तक 11 नागरिकों की हत्या, ऐहतियात के तौर पर कई इलाकों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद
प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit- IANI)

श्रीनगर: कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) के कुछ हिस्सों में सोमवार को ऐहतियात के तौर पर मोबाइल इंटरनेट सेवाएं (Mobile Internet Services) बंद कर दी गईं हैं. श्रीनगर जिले में, जिन क्षेत्रों में सेवा को निलंबित कर दिया गया है, उनमें एंकर, ईदगाह, कमरवारी, सौरा, महाराजगंज, नौहट्टा, सफा कदल और बग्यास जैसे इलाके शामिल हैं. वहीं कुलगाम जिले में वानपोह, कैमोह में भी इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है, जबकि पुलवामा के लिटर क्षेत्र में इंटरनेट सेवा को रोक दिया गया है.

हाल ही में गैर स्थानीय नागरिकों की लक्षित हत्याओं के बाद मोबाइल इंटरनेट निलंबन का यह कदम सामने आया है. पिछले 15 दिनों में कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा नौ नागरिकों की हत्या कर दी गई है. वहीं इस महीने की बाते करे तो अब तक 11 लोगों की जान जा चुकी हैं. जिससे घाटी में भय, गुस्सा और दहशत फैल गई है. यह भी पढ़े: Jammu-Kashmir: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पुलिस के शीर्ष अधिकारियों के साथ सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की

12 अक्टूबर को श्रीनगर के ईदगाह इलाके में आतंकवादियों ने बिहार के एक स्ट्रीट वेंडर वीरेंद्र पासवान की हत्या कर दी थी. उसी दिन, एक प्रतिष्ठित फामेर्सी के मालिक एम. एल. बिंदरू और एक टैक्सी चालक की भी हत्या कर दी गई थी. 14 अक्टूबर को श्रीनगर के ईदगाह इलाके में आतंकियों ने एक स्कूल प्रिंसिपल और एक अन्य अध्यापक की हत्या कर दी थी. शनिवार को आतंकवादियों द्वारा किए गए दो हमलों में बिहार के एक स्ट्रीट वेंडर और उत्तर प्रदेश के एक बढ़ई की जान ले ली गई. रविवार को कुलगाम जिले में बिहार के दो मजदूरों को मार दिया गया जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया.

वहीं कश्मीर में बढ़ती आतंकवादी गतिविधियों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को राज्य पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के प्रमुखों के साथ बैठक की.बैठक में हाल में जम्मू कश्मीर में आम नागरिकों की हत्या समेत सुरक्षा से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘शाह ने यहां खुफिया ब्यूरो मुख्यालय में ‘राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति सम्मेलन’ के समापन सत्र की अध्यक्षता की और इस संबंध में विस्तार से चर्चा की.’