Al Zawahiri Killed: अल कायदा का सरगना अल-जवाहिरी अमेरिकी ड्रोन हमले में ढेर, जो बाइडेन बोले- न्याय हो चुका है
Al Zawahiri Killed (Photo: wikmedia commons)

अमेरिकी ड्रोन हमले में आतंकियों का सरगना अल कायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी (Al Zawahiri) शनिवार को मारा गया. जवाहिरी अमेरिकी कार्रवाई में ओसामा बिन-लादेन के मारे जाने के बाद अल-कायदा का सरगना बना था. करीब दो दशक तक चलाए अभियान के बाद अमेरिकी सैनिकों के अफगानिस्तान छोड़ने के 11 महीने बाद एक महत्वपूर्ण आतंकवाद रोधी अभियान में अमेरिका ने यह सफलता हासिल की है.

केंद्रीय खुफिया एजेंसी ने यह हवाई हमला किया. मामले से जुड़े पांच लोगों ने नाम उजागर ना करने की शर्त पर इस हमले की पुष्टि की. इससे बाद, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी घोषणा की कि जवाहिरी काबुल में अमेरिकी ड्रोन हमले में मारा गया. उन्होंने इसे ‘‘न्याय’’ के लिए चलाया गया अभियान बताया.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “शनिवार को, मेरे निर्देश पर, संयुक्त राज्य अमेरिका ने अफगानिस्तान के काबुल में सफलतापूर्वक हवाई हमला किया और अल कायदा अमीर अयमान अल-जवाहिरी को मार गिराया है.”

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि लोगों को न्याय दिया गया है, “इसमें कितना भी समय लगे, चाहे कोई कहीं भी छिप जाएं, अगर कोई हमारे लोगों के लिए खतरा हैं, तो अमेरिका उसे ढूंढेगा और बाहर निकालेगा.”

लादेन का भी किया था खात्मा 

ओसामा बिन लादेन को 11 साल पहले अमेरिका के सील कमांडोज ने पाकिस्तान के जलालाबाद में मार गिराया था. अमेरिका ने 11 सिंतबर 2001 को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और पेंटागन के टावरों पर हुए हमलों में लगभग 3,000 लोग मारे जाने के बाद अल-जवाहिरी की तलाश शुरू की थी. 2001 में अफगानिस्तान पर अमेरिका के हमले के बाद ओसामा बिन लादेन और अल जवाहिरी दोनों ही अफगानिस्तान छोड़ कर भाग गए थे. लादेन को मार गिराने के बाद अब अमेरिका ने अल-जवाहिरी का भी खात्मा कर दिया है.