Reasons Why Couples Stop Having Sex: क्यों जोड़े सेक्स करना बंद कर देते हैं?
सेक्स (Photo Credits: Pixabay)

सेक्स (Sex) एक सुखद, संतोषजनक गतिविधि है और दुनिया इसके इर्द-गिर्द घूमती है, खासकर जब आप नवविवाहित हों. हालांकि, कुछ समय बाद कई जोड़े सेक्स करना बिल्कुल भी बंद कर देते हैं. ऐसा होने के कई कारण हैं और यह बहुत सामान्य है और यदि आप दोनों इसमें अपना दिल लगाते हैं तो सभी पर आसानी से काम किया जा सकता है. तो यहां उन 5 कारणों के बारे में बताया गया है, जिन पर आप काम करना शुरू कर सकते हैं. यह भी पढ़ें: Why Size Doesn't Matter During Sex: सेक्स के दौरान साइज मायने नहीं रखने के 3 कारण

उदासी: दिनचर्या हमेशा कुछ वक्त बाद ऊबाऊ हो जाती है. ऐसा ही सेक्स के साथ भी है, सेक्स में नयापान लाने की कोशिश करें, नयापन आपमें और आपके पार्टनर के बीच आकर्षण पैदा करेगा.

साफ सुथरा न रहना: यदि आपके साथी साफ सुथरे नहीं रहते हैं, तो आप अंततः घृणा महसूस करने लगेंगे. पार्टनर को यह नहीं सोचना चाहिए कि अब शादी हो गई है और अब मैं अपनी मर्जी से रह सकती हूँ या सकता हूँ. जब मन करेगा ब्रश करेंगे और जब मन करेगा नहाएंगे. यह आपकी सेक्स लाइफ को ख़त्म कर सकता है.

विचारधाराओं में मतभेद: अगर आप दोनों के बीच हमेशा मतभेद होते रहते हैं, तो यह अंततः आपके यौन जीवन में उलझ जाएगा. आप उस आक्रोश की भावना को महसूस करने लगते हैं और फिर उसके साथ अंतरंग होना मुश्किल हो जाता है.

अपने ही शरीर से नाखुश: जब आप अपने शरीर से नाखुश होते हैं, इसके बारे में असुरक्षित होते हैं, तो सेक्स करने की इच्छा डर और खुद पर थोपी गई शर्म से कम हो जाती है. यह संभव है कि एक साथी को इससे भी जटिल परेशानी हो. ऐसा खासकर तब होता है जब एक फिट होता है और दूसरा नहीं. यह भी पढ़ें: Roleplay Ideas That Will Pump Up Your Sex Life: 7 रोल प्ले आइडिया जो आपकी सेक्स लाइफ को बढ़ावा देंगे

थकावट: जब बहुत अधिक काम का तनाव या अन्य कारक हैं जो आप सभी को परेशान करते हैं, तो यह सीधे आपके यौन जीवन को प्रभावित करता है. आप इतने थक जाते हैं कि आपका कुछ भी करने का मन नहीं करता है. यह तनाव तीन गुना हो जाता है, जब आपके घर में बच्चे होते हैं और जिम्मेदारियों को साझा नहीं किया जाता है. आपके पास कुछ और करने के लिए ऊर्जा ही नहीं बचती है.

नोट- इस लेख में दी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है. इसकी वास्तविकता, सटीकता और विशिष्ट परिणाम की हम कोई गारंटी नहीं देते हैं. इसके बारे में हर व्यक्ति की सोच और राय अलग-अलग हो सकती है.