INX मीडिया केस: तिहाड़ जेल के सेल नंबर 7 में ऐसे कटी पी चिदंबरम की रात, खाने में मिली दाल रोटी और सब्जी- सुबह मिला पोहा, चाय
पी चिदंबरम (Photo Credits: PTI)

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने आईएनएक्स घोटाला ( INX Media scam) मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम (Chidambaram) को तिहाड़ जेल भेज दिया है. पी चिदंबरम (P. Chidambaram) को तिहाड़ जेल (Tihar jail) में रखा गया है. चिदंबरम को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में 19 सितम्बर तक जेल में रहना होगा. चिदंबरम को जेल नंबर सात में रखा गया है. जेल में चिदंबरम भी आम कैदियों की भांति पुस्तकालय का इस्तेमाल कर सकेंगे और टीवी देख सकेंगे. बैरक में चिदंबरम को जेल नियमों के तहत एक तकिया, कंबल भी मिला है. रात उनकी सामन्य कैदियों की भांति बीती और सुबह उन्हें नाश्ता में चाय के साथ पोहा, दलिया, ब्रेड दिया गया.

आम तौर पर प्रवर्तन निदेशालय के मामलों में आरोपियों को इसी जेल में रखा जाता है. उनके पुत्र कार्ति को भी पिछले साल इसी मामले में उसी कोठरी में 12 दिनों तक रखा गया था. अगस्तावेस्टलैंड और बैंक धोखाधड़ी मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी भी इसी जेल में बंद हैं. जेल के एक अधिकारी ने कहा कि आम तौर पर रात का खाना सात से आठ बजे के बीच कैदियों को दिया जाता है लेकिन यह उन लोगों के लिए अलग रखा जाता है जो अदालती प्रक्रियाओं के कारण देर से पहुंचते हैं.

यह भी पढ़ें:- कोहिनूर मिल मामला: राज ठाकरे के बाद ED ने अब पूर्व विधायक नितिन सरदेसाई से की पूछताछ

सीबीआई की दो दिन की हिरासत की अवधि समाप्त होने के बाद गुरूवार को चिदंबरम (73) को दिल्ली की अदालत में पेश किया गया था. कांग्रेस नेता की 15 दिन की सीबीआई हिरासत की अवधि आज समाप्त हो रही है. विशेष अदालत ने उन्हें पांच चरणों में 15 दिनों के लिए सीबीआई हिरासत में भेजा था, जो 21 अगस्त की रात को उनकी गिरफ्तारी के साथ शुरू हुआ था.

गौरतलब हो कि सीबीआई ने 2007 में वित्त मंत्री पी चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान आईएनएक्स मीडिया समूह को 305 करोड़ के विदेशी निवेश को विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड की मंजूरी में कथित अनियमितताओं को लेकर 15 मई, 2017 को प्राथमिकी दर्ज की थी. इस प्राथमिकी के बाद 2017 में ही प्रवर्तन निदेशालय ने धन शोधन का मामला दर्ज किया था.