भारतीय टीम के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनका नाम लेने पर धन्यवाद दिया है. प्रधानमंत्री ने परीक्षा पर चर्चा के दौरान कुंबले का उदाहरण दिया था. मोदी ने कुंबले के उस मैच का जिक्र किया था जिसमें वो जबड़े में चोट के बाद भी गेंदबाजी करने उतरे थे.

भीम आर्मी के चीफ चन्द्रशेखर आजाद सीएए के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहे विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए.

राहुल गांधी 30 जनवरी को वायनाड में नागरिकता संशोधन अधिनियम विरोधी रैली की अगुवाई करेंगे. वायनाड के सांसद राहुल गांधी 28 जनवरी को जयपुर में आर्थिक संकट के मुद्दे पर छात्रों को संबोधित करेंगे.

पंजाब सरकार ने बुधवार को ऐसे तिपहिया वाहनों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की, जो 15 साल या इससे अधिक पुराने हैं और जीवाश्म ईंधन से चलते हैं. इन वाहनों की जगह अब इलेक्ट्रिक या कंप्रेस्ड नेचुरल गैस इंजन वाले वाहन सड़कों पर उतरेंगे. टेंडरस्ट पंजाब मिशन के निदेशक के. एस. पन्नू ने कहा कि राज्य में बड़ी संख्या में तिपहिया वाहन 15 साल से अधिक समय से चल रहे हैं.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजधानी दिल्ली स्थित प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान जवाहरलाल नेहरु युनिवर्सिटी के छात्र भी परेड में हिस्सा लेगें.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को उत्तरी बंगाल के पहाड़ी शहर के मध्य से नागरिकता संशोधन अधिनियम व प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी एनआरसी के खिलाफ रैली निकाली. रैली में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया. पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले गोरखा और अन्य लोगों ने पांच किमी लंबे जुलूस में भाग लिया और इस दौरान लोग हाथों में तिरंगा थामे हुए थे. यह भानुभक्ता भवन से चौक बजार तक निकाला गया. इसमें लोगों ने पारंपरिक रंग-बिरंगे परिधान पहने हुए थे और बहुत से लोग पारंपरिक वाद्य यंत्र बजा रहे थे.

मेरठ में CAA  के समर्थन में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि, CAA हमारा वादा था, हमने अपना वादा पूरा किया, हमने कोई अपराध नहीं किया, लेकिन इसे हिन्दू और मुसलमान के नजरिये से देखा जा रहा है. संदेह चाहे कोई भी कर ले, हमारा प्रधानमंत्री धर्म के आधार पर नहीं इंसानियत के आधार पर सोचते हैं.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि, CAA का विरोध केवल एसपी नहीं कर रही बल्कि भारत की आत्मा को समझने वाला हर नागरिक CAA का विरोध कर रहा है. मुझे खुशी है कि महिलाओं ने भी इस पर बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया है. उन्होंने आगे कहा, हमारा देश कभी भाषा के नाम पर या धर्म के नाम पर कभी भेदभाव नहीं किया होगा। ये जो धर्म के नाम पर नागरिकों के साथ भेदभाव होगा उसका विरोध एक-एक भारतीय कर रहा है. हम उन्हीं से जनाना चाहते हैं कि आखिरकार आप अपने वोट के लिए भारत की आत्मा को खत्म कर देंगे.

एक ओर जहां सर्वोच्च न्यायलय ने CAA पर फ़िलहाल रोक लगाने से इंकार कर दिया है तो वहीं दूसरी ओर भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद और स्वामी अग्निवेश ने सुप्रीम कोर्ट में इस नए संशोधित कानून के खिलाफ याचिका दायर की है.  वहीं, शाहीन बाग में महिलाओं ने सीएए (CAA), एनआरसी (NRC) और एनपीआर (NPR) के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन जारी रखा

Load More

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज (22 जनवरी) सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आधारित सक्रिय शासन और सामयिक कार्यान्वयन के लिए बहुउद्देश्यीय मंच ‘प्रगति’ के जरिए 32वें संवाद की अध्यक्षता करेंगे. इस दौरान कई जनकल्याण योजनाओं की समीक्षा की जाएगी.

‘प्रगति’ के पिछले 31 संवादों के दौरान प्रधानमंत्री ने 12 लाख करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली परियोजनाओं की समीक्षा की. वर्ष 2019 की पिछली ‘प्रगति’ बैठक में 16 राज्यों तथा जम्मू एवं कश्मीर केन्द्रशासित प्रदेश से संबंधित 61,000 करोड़ रुपये से अधिक की नौ परियोजनाओं पर चर्चा की गई थी. विदेशों में काम करने वाले भारतीय नागरिकों की शिकायतों, राष्ट्रीय कृषि बाजार, आकांक्षी जनपद कार्यक्रम और अवसंरचना विकास कार्यक्रमों व पहलों जैसे विभिन्न विषयों पर भी चर्चा की गई थी.

प्रधानमंत्री ने 25 मार्च, 2015 को बहुउद्देश्यीय और बहुविषयक शासन मंच ‘प्रगति’ की शुरूआत की थी. ‘प्रगति’ एकीकृत संवाद मंच है, जिसका उद्देश्य जन-साधारण की शिकायतों का समाधान करना है. ‘प्रगति’ के जरिए भारत सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों और परियोजनाओं तथा विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा शुरू की जाने वाली परियोजनाओं की निगरानी और समीक्षा में मदद मिलती है.