कोरोना वायरस फैलने के खतरे के मद्देनजर किए गए लॉकडाउन के बीच सोलापुर में अज्ञात व्यक्तियों ने शराब की एक दुकान में सेंधमारी कर शराब और पचास हजार रुपये चोरी कर लिए. जिसके बाद पुलिस मामला दर्ज किया है

बिहार में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के छह नए मामलों की पुष्टि हुई है, जिससे राज्य में कारोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ कर 21 हो गई है

Coronavirus: न्यूज चैनल CNN के एंकर Christopher Cuomo का कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव पाया गया

कोरोना वायरस के खिलाफ भारत सरकार द्वारा शुरू किये गए जंग लड़ने की मुहिम में मदद को लेकर प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी भी सामने आये हैं. उन्होंने फैसला किया है वे अपनी एक दिन की सैलेरी पीएम राहत कोष में देंगे.

दिल्ली पुलिस ने विवादित दक्षिण पूर्वी जिले में स्थित निजामुद्दीन मरकज प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली. एफआईआर दर्ज होते ही दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने मामले की जांच अपराध शाखा के हवाले कर दी है. जो जांच अधिकारी इस मामले की जांच में लग गए हैं

कोरोना को लेकर करीब 84 प्रतिशत भारतीयों का मानना है कि इस महामारी से रिकवरी होने में छह माह से एक साल तक का समय लग सकता है

कोरोना के खिलाफ भारत सरकार की जंग, पीएम मोदी की मां हीराबेन ने प्रधानमंत्री राहत कोष में दी 25 हजार रुपये की मदद

भारत सरकार द्वारा कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने को लेकर SBI के 2.5 लाख कर्मचारी दो दिन की सैलरी पीएम राहत कोष में दान करेंगे. इस तरफ पीएम राहत कोष म में 100 रुपये की मदद की जायेगी.

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 6 और नए मामले सामने आये हैं. इस तरफ से पीड़ितों की कुल संख्या हुई 55

भारतीय किसान उर्वरक सहकारी लिमिटेड (IFFCO) कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में मदद के लिए पीएम राहत कोष में 25 करोड़ रुपये दान करेगा.

Load More

नई दिल्ली: देश में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 21 दिन के लॉकडाउन का आदेश दिया है. इस मुश्किल हालात में गुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat) शहर में ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों ने देशभर में जारी लॉक डाउन के बीच जरूरतमंद लोगों को राशन बाटां. ट्रांसजेंडर समुदाय की निशा कौर का कहना है, ' पहले हमने 200 किट से शुरू किया था अब 1500 किट बांटते हैं. हम किट बनाकर झोपड़ पट्टी में बांटने जाते हैं. हमें किसी ने पैसा नहीं दिया है. पहले इन लोगों ने हमें पैसा दिया था अब हमारी बारी है इनके लिए कुछ करने की.

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने सोमवार को यहां स्थित उत्तर प्रदेश भवन में स्थापित किए गए नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया और अधिकारियों से कहा कि वे लॉकडाउन के दौरान राजधानी में फंसे उत्तर प्रदेश के निवासियों की सहायता करते वक्त सहानुभूति से पेश आएं.

आज के सभी मुख्य समाचार और ब्रेकिंग न्यूज पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें.

सीएम आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सहायता मांगने वालों की कॉल को गंभीरता से सुना जाए और यथासंभव सहायता उपलब्ध कराई जाए. उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कॉल करने वालों को बताया जाए कि इस समय बाहर निकलना खतरनाक है और उन्हें वहीं रहना चाहिए जहां वे हैं.

राज्य सरकार द्वारा जारी एक वक्तव्य में कहा गया कि दिल्ली में फंसे लोगों के लिए भोजन और स्वास्थ्य सहायता उपलब्ध कराई जा रही है. आदित्यनाथ ने नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों से कहा कि वे कॉल करने वालों से शालीनता से बात करें.