जरुरी जानकारी | गोयल का ब्रिटेन को मुक्त व्यापार समझौते का प्रस्ताव

नयी दिल्ली, 15 सितंबर वाणज्यि एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने द्विपक्षीय मुक्त व्यापार समझौते का प्रस्ताव करते हुए मंगलवार को कहा कि भारत ब्रिटेन से स्कॉच व्हिस्की का बड़ी मात्रा में आयात करने पर चर्चा को तैयार है।

गोयल ने कहा कि उन्होंने ब्रिटेन को प्रस्ताव दिया कि दोनों देशों को मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर बातचीत शुरू करनी चाहिए क्योंकि यह समय की जरूरत है।

यह भी पढ़े | Banking Regulation (Amendment) Bill 2020: अब कोऑपरेटिव बैंकों पर भी होगी RBI की कड़ी नजर, नहीं डूबेगा आपका पैसा.

उन्होंने कहा कि भारत, ब्रिटेन के साथ एफटीए के लिये प्रतिबद्ध है और यह राष्ट्रमंडल देशों के लिये भी अच्छा होगा।

मंत्री ने कहा, ‘‘मैं उम्मीद कर रहा हूं कि इससे ब्रिटिश टीम उत्साहित होगी। मैंने कहा था कि मैं भारत में स्कॉच व्हिस्की के बड़ी मात्रा में आयात पर चर्चा करने के लिए तैयार हूं।’’

यह भी पढ़े | 7th Pay Commission: इन सरकारी कर्मचारियों को मिली बड़ी सौगात, सैलरी में होगी 44% तक की बढ़ोतरी.

उन्होंने उद्योग मंडल सीआईआई के भारत-यूके आर्थिक भागीदारी शिखर सम्मेलन में कहा, ‘‘ऐसा नहीं है कि मैं स्कॉच व्हिस्की पीता हूं लेकिन मैंने सुना है कि भारत में स्कॉच के नाम पर कई नकली शराब आती है। मेरा इरादा यह था कि इससे नकली शराब पर पाबंदी लगेगी और उसे उन लोगों के लिए वास्तविक सामग्री मिलेगी जो इसे खरीद सकते हैं और चाहते हैं।’’

गोयल ने कहा, ‘‘...दूसरी तरफ हमारे एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम), हमारे किसानों, डेयरी क्षेत्र, मछुआरों, हस्तशिल्प, कपड़ा, रत्न एवं आभूषण क्षेत्रों में कई अवसर भी हैं। हमारे पास कई ऐसे उद्योग हैं जिनमें ब्रटेन की कंपनियों के साथ काम करने की काफी क्षमता है।’’

उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष उन क्षेत्रों में सहयोग बढ़ा सकते हैं जहां ब्रिटेन शुद्ध आयातक है और भारत को शुद्ध रूप से प्रतिस्पर्धा और तुलनात्मक लाभ है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)