ममता बनर्जी ने असदुद्दीन ओवैसी पर बोला हमला, कहा- अल्पसंख्यक ऐसे नेताओं पर ना करें भरोसा
ममता बनर्जी और असदुद्दीन ओवैसी (Photo Credits: IANS)

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर तीखा हमला किया है. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ममता बनर्जी ने अल्‍पसंख्‍यकों को कट्टरता से परहेज करने की अपील की. उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी अपर निशाना साधते हुए कहा कि अल्‍पसंख्‍यकों को ऐसे नेताओं से सतर्क रहने की जरुरत है.

बंगाल के कूचबिहार में एक कार्यक्रम में ममता बनर्जी ने असदुद्दीन ओवैसी की ओर इशारा करते हुए कहा कि कुछ नेता है जो लोगों में बंटवारा पैदा कर रहे हैं, उनकी एक पार्टी भी है जो इसे बढ़ा रही है. हैदराबाद से आकर ये लोग यहां रैलियों में अल्पसंख्यकों को सुरक्षा देने का दावा करते हैं, लेकिन आप इनके झांसे में नहीं आईये. ऐसे लोगों पर ध्यान नहीं देना चाहिए. उन्होंने आगे कहा कि हिंदू भी कट्टरपंथी ताकतों के बहकावे में ना आएं. Ayodhya Verdict: असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर AIMPLB और मुस्लिम पक्षकार ने जताया ऐतराज

पश्चिम बंगाल में आगामी चुनावों को लेकर एआईएमआईएम अपनी जमीनी पकड़ मजबूत करने की भरसक प्रयास कर रही है. इसी के चलते सूबे में टीएमसी को अपने पाले के अल्‍पसंख्‍यकों के वोट कटने खतरा महसूस हो रहा है. जिस वजह से टीएमसी को एआईएमआईएम को मात देने के लिए रणनीति में बदलाव करने पड़ रहे है. शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी का विवादित बयान, असदुद्दीन ओवैसी की तुलना आतंकी संगठन ISIS के सरगना बगदादी से की

इससे पहले बंगाल से बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो ने ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा था, 'असदुद्दीन ओवैसी दूसरे जाकिर नाईक बनते जा रहे हैं. अगर वह जरूरत से ज्यादा बोलेंगे तो देश में लॉ ऐंड ऑर्डर भी है.' दरअसल केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने यह टिप्पणी अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ओवैसी द्वारा दिए बयान के चलते की.