विदेश की खबरें | उम्मीद है कि भारत और चीन मौजूदा सीमा विवाद हल कर लेंगे : अमेरिका

वाशिंगटन, 25 सितम्बर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बृहस्पतिवार को कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भारत और चीन मौजूदा सीमा विवाद हल कर लेंगे। साथ ही उन्होंने एक बार फिर दोनों एशियाई देशों की मदद की पेशकश की।

ट्रम्प ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, ‘‘ मुझे पता है कि चीन और भारत मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि वे इससे निपट लेंगे।’’

यह भी पढ़े | COVID-19 Vaccine Update: रूस ने कोरोना वैक्सीन Sputnik V का सार्वजनिक वितरण शुरू किया- रिपोर्ट्स.

उन्होंने कहा, ‘‘ अगर हम मदद कर सकते हैं , तो जरूर मदद करना चाहेंगे।’’

राष्ट्रपति का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ दिन पहले ही भारत और चीन के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों ने कई महीनों से लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर जारी गतिरोध को हल करने के लिए वार्ता की थी।

यह भी पढ़े | India Slams Pakistan at UNHRC: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत ने पाकिस्तान को लगाई फटकार, कहा-इस्लामाबाद ने मानवाधिकारों पर हर अंतरराष्ट्रीय संधि का उल्लंघन किया.

इस बीच, समाचार पत्र ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने अपनी एक खबर में कहा कि सीमा संघर्ष भारत को एक असंयमित प्रतिक्रिया के लिए उकसा रहा है।

अखबार ने कहा, ‘‘भारत नए जहाजों के निर्माण और तटीय निगरानी चौकियों का नेटवर्क बनाते हुए अमेरिका और उसके सहयोगियों के साथ संयुक्त नौसैनिक युद्धाभ्यास बढ़ा रहा है जो नई दिल्ली को हिंद महासागर के समुद्री यातायात पर नजर रखने में मदद करेगा।’’

भारत और दक्षिण एशिया मामलों के अमेरिकी विशेषज्ञ एशले टेलिस ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन ने इस संकट में भारत के समर्थन करने में बहुत पारदर्शी रुख अपनाया है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)