Maharashtra Rains: महाराष्ट्र के कई हिस्सों में भारी बारिश, गढ़चिरौली में नदियां उफान पर, सीएम शिंदे-डिप्टी CM फडणवीस ने स्थिति का निरीक्षण किया

महाराष्ट्र के नासिक जिले में सोमवार को भारी बारिश जारी रहने से कई नदियों का जलस्तर बढ़ने के बाद गढ़चिरौली जिले में तीन व्यक्ति लापता हैं तथा मुंबई एवं उसके आसपास भी मध्यम वर्षा हुई है.

Close
Search

Maharashtra Rains: महाराष्ट्र के कई हिस्सों में भारी बारिश, गढ़चिरौली में नदियां उफान पर, सीएम शिंदे-डिप्टी CM फडणवीस ने स्थिति का निरीक्षण किया

महाराष्ट्र के नासिक जिले में सोमवार को भारी बारिश जारी रहने से कई नदियों का जलस्तर बढ़ने के बाद गढ़चिरौली जिले में तीन व्यक्ति लापता हैं तथा मुंबई एवं उसके आसपास भी मध्यम वर्षा हुई है.

एजेंसी न्यूज Bhasha|
Maharashtra Rains: महाराष्ट्र के कई हिस्सों में भारी बारिश, गढ़चिरौली में नदियां उफान पर, सीएम शिंदे-डिप्टी CM फडणवीस ने स्थिति का निरीक्षण किया
सीएम एकनाथ शिंदे व डिप्टी सीएम फडणवीस (Photo Credits ANI)

Maharashtra Rains:  महाराष्ट्र के नासिक जिले में सोमवार को भारी बारिश जारी रहने से कई नदियों का जलस्तर बढ़ने के बाद गढ़चिरौली जिले में तीन व्यक्ति लापता हैं तथा मुंबई एवं उसके आसपास भी मध्यम वर्षा हुई है. अधिकारियों ने बताया कि नासिक जिले में भारी बारिश जारी है जिससे कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है एवं गोदावरी में नदीतल पर स्थित मंदिर डूब गये हैं. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 14 जुलाई तक नासिक के लिए रेडअलर्ट जारी किया है और अगले 24 घंटे में 20 सेंटीमीटर से अधिक वर्षा होने का अनुमान व्यक्त किया है.

पुणे जिले में भी पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है. पूर्वी महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में पिछले तीन दिनों में तीन व्यक्ति उफनते नाले के तेज प्रवाह में बह गये और बाद में उनके शव मिले. जिला सूचना कार्यालय ने यह जानकारी दी. कार्यालय की विज्ञप्ति के अनुसार बह गये तीन अन्य लोग अब भी लापता हैं। जिले में भारी वर्षा से प्रभावित 129 स्थानों से 353 लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है. एक अधिकारी के अनुसार नासिक जिले में सुरगना में सबसे अधिक वर्षा 238.8 मिलीमीटर, पेठ में 187.6 मिलीमीटर और त्रयम्बेकश्वर में 168 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गयी. यह भी पढ़े: Heavy Rain In Maharashtra: महाराष्ट्र में बारिश के चलते अब तक 76 लोगों की मौत, 838 घर हुए क्षतिग्रस्त

उन्होंने कहा त्रयम्बकेश्वर और इगतपुरी जैसे घाट क्षेत्रों में पारंपरिक रूप से अधिक वर्षा तो होती ही है लेकिन इस बार सुरगना एवं पेठ में भी अच्छी -खासी बारिश हुई है. उन्होंने बताया कि सोमवार को तीन बजे गंगापुर बांध से 10,035 क्यूसेक, डरना से 15,088 क्यूसेक, कडवा से 6,712 और नंदूर-मध्यमेश्वर से 49,480 क्यूसेक पानी छोड़ा गया. अधिकारी ने बताया कि शहर में जलापूर्ति करने वाले गंगापुर बांध से पानी छोड़े जाने से गोदावरी नदी में जलस्तर बढ़ गया तथा दशक्रिया विधि समेत रामखुंड क्षेत्र में कई छोटे मंदिर पानी में डूब गये.

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘ नासिक के लोग नदी के मध्य में स्थित दतोन्दय मारूति (दो मुंह वाले हनुमान) की प्रतिमा के इर्द-गिर्द पानी का स्तर देखकर बाढ़ की तीव्रता का अंदाजा लगाते हैं. फिलहाल जलस्तर प्रतिमा की कमर से थोड़ा नीचे है’ जिला प्रशासन के आंकड़ों के अनुसार सभी बांधों में कुल 29,9730 लाख घन फुट पानी है जो उनकी कुल भंडारण क्षमता का 46 फीसद है.

अधिकारी ने पीटीआई- को बताया कि गोदावरी एवं अन्य नदियों के तटों के आसपास बसे गांवों के लोगों को स्थिति को लेकर सतर्क कर दिया गया है। वैसे फिलहाल जलस्तर खतरे के निशान के नीचे है.

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा ews%2Fheavy-rain-in-many-parts-of-maharashtra-three-missing-in-gadchiroli-moderate-rain-in-mumbair-1422330.html&text=Maharashtra+Rains%3A+%E0%A4%AE%E0%A4%B9%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%9F%E0%A5%8D%E0%A4%B0+%E0%A4%95%E0%A5%87+%E0%A4%95%E0%A4%88+%E0%A4%B9%E0%A4%BF%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A5%8B%E0%A4%82+%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82+%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%80+%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%BF%E0%A4%B6%2C+%E0%A4%97%E0%A4%A2%E0%A4%BC%E0%A4%9A%E0%A4%BF%E0%A4%B0%E0%A5%8C%E0%A4%B2%E0%A5%80+%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82+%E0%A4%A8%E0%A4%A6%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%82+%E0%A4%89%E0%A4%AB%E0%A4%BE%E0%A4%A8+%E0%A4%AA%E0%A4%B0%2C+%E0%A4%B8%E0%A5%80%E0%A4%8F%E0%A4%AE+%E0%A4%B6%E0%A4%BF%E0%A4%82%E0%A4%A6%E0%A5%87-%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%9F%E0%A5%80+CM+%E0%A4%AB%E0%A4%A1%E0%A4%A3%E0%A4%B5%E0%A5%80%E0%A4%B8+%E0%A4%A8%E0%A5%87+%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A5%E0%A4%BF%E0%A4%A4%E0%A4%BF+%E0%A4%95%E0%A4%BE+%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%B0%E0%A5%80%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B7%E0%A4%A3+%E0%A4%95%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE&via=LatestlyHindi ', 650, 420);" title="Share on Twitter">

एजेंसी न्यूज Bhasha|
Maharashtra Rains: महाराष्ट्र के कई हिस्सों में भारी बारिश, गढ़चिरौली में नदियां उफान पर, सीएम शिंदे-डिप्टी CM फडणवीस ने स्थिति का निरीक्षण किया
सीएम एकनाथ शिंदे व डिप्टी सीएम फडणवीस (Photo Credits ANI)

Maharashtra Rains:  महाराष्ट्र के नासिक जिले में सोमवार को भारी बारिश जारी रहने से कई नदियों का जलस्तर बढ़ने के बाद गढ़चिरौली जिले में तीन व्यक्ति लापता हैं तथा मुंबई एवं उसके आसपास भी मध्यम वर्षा हुई है. अधिकारियों ने बताया कि नासिक जिले में भारी बारिश जारी है जिससे कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है एवं गोदावरी में नदीतल पर स्थित मंदिर डूब गये हैं. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 14 जुलाई तक नासिक के लिए रेडअलर्ट जारी किया है और अगले 24 घंटे में 20 सेंटीमीटर से अधिक वर्षा होने का अनुमान व्यक्त किया है.

पुणे जिले में भी पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है. पूर्वी महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में पिछले तीन दिनों में तीन व्यक्ति उफनते नाले के तेज प्रवाह में बह गये और बाद में उनके शव मिले. जिला सूचना कार्यालय ने यह जानकारी दी. कार्यालय की विज्ञप्ति के अनुसार बह गये तीन अन्य लोग अब भी लापता हैं। जिले में भारी वर्षा से प्रभावित 129 स्थानों से 353 लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है. एक अधिकारी के अनुसार नासिक जिले में सुरगना में सबसे अधिक वर्षा 238.8 मिलीमीटर, पेठ में 187.6 मिलीमीटर और त्रयम्बेकश्वर में 168 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गयी. यह भी पढ़े: Heavy Rain In Maharashtra: महाराष्ट्र में बारिश के चलते अब तक 76 लोगों की मौत, 838 घर हुए क्षतिग्रस्त

उन्होंने कहा त्रयम्बकेश्वर और इगतपुरी जैसे घाट क्षेत्रों में पारंपरिक रूप से अधिक वर्षा तो होती ही है लेकिन इस बार सुरगना एवं पेठ में भी अच्छी -खासी बारिश हुई है. उन्होंने बताया कि सोमवार को तीन बजे गंगापुर बांध से 10,035 क्यूसेक, डरना से 15,088 क्यूसेक, कडवा से 6,712 और नंदूर-मध्यमेश्वर से 49,480 क्यूसेक पानी छोड़ा गया. अधिकारी ने बताया कि शहर में जलापूर्ति करने वाले गंगापुर बांध से पानी छोड़े जाने से गोदावरी नदी में जलस्तर बढ़ गया तथा दशक्रिया विधि समेत रामखुंड क्षेत्र में कई छोटे मंदिर पानी में डूब गये.

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘ नासिक के लोग नदी के मध्य में स्थित दतोन्दय मारूति (दो मुंह वाले हनुमान) की प्रतिमा के इर्द-गिर्द पानी का स्तर देखकर बाढ़ की तीव्रता का अंदाजा लगाते हैं. फिलहाल जलस्तर प्रतिमा की कमर से थोड़ा नीचे है’ जिला प्रशासन के आंकड़ों के अनुसार सभी बांधों में कुल 29,9730 लाख घन फुट पानी है जो उनकी कुल भंडारण क्षमता का 46 फीसद है.

अधिकारी ने पीटीआई- को बताया कि गोदावरी एवं अन्य नदियों के तटों के आसपास बसे गांवों के लोगों को स्थिति को लेकर सतर्क कर दिया गया है। वैसे फिलहाल जलस्तर खतरे के निशान के नीचे है.

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

शहर पेट्रोल डीज़ल
New Delhi 96.72 89.62
Kolkata 106.03 92.76
Mumbai 106.31 94.27
Chennai 102.74 94.33
View all
Currency Price Change
Google News Telegram Bot
Close
Latestly whatsapp channel