देश की खबरें | हलाल विवाद: डीवाईएफआई ने केरल में ‘फूड स्ट्रीट’ कार्यक्रम आयोजित किया

तिरुवनंतपुरम, 24 नवंबर माकपा की युवा शाखा डीवाईएफआई ने भाजपा और संघ परिवार के संगठनों पर केरल में हलाल भोजन बेचने वाले होटलों में तेज वृद्धि पर एक ‘गलत अभियान’ चलाकर धर्म को भोजन के साथ मिलाने का आरोप लगाते हुए बुधवार को राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में एक ‘‘फूड स्ट्रीट’’ कार्यक्रम का आयोजन किया।

वाम युवा संगठन ने केरल में हाल के दिनों में इस तरह के रेस्तरां के कथित रूप से बढ़ने के खिलाफ संगठनों के अभियान को लेकर चल रहे विवाद के बीच ‘फूड स्ट्रीट’ कार्यक्रम का आयोजन किया।

पूर्व लोकसभा सदस्य डा. सेबेस्टियन पॉल ने कोच्चि में आयोजित ‘फूड स्ट्रीट’ कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

डीवाईएफआई के कार्यकर्ताओं ने बताया कि कोच्चि में आयोजित ‘फूड स्ट्रीट’ कार्यक्रम में बीफ, पोर्क, चिकन और बिरयानी समेत कई तरह के व्यंजन तैयार किये गए।

डीवाईएफआई के प्रदेश अध्यक्ष एस. सतीश ने दावा किया कि हजारों लोगों ने विभिन्न जिला केंद्रों पर कार्यक्रमों में हिस्सा लिया और घोषणा की कि भाजपा और संघ परिवार से जुड़े संगठनों के समाज में भोजन के नाम पर दरार पैदा करने के एजेंडे को ‘‘परास्त’’ किया जाएगा।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के. सुरेंद्रन ने मंगलवार को नयी दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आरोप लगाया था कि केरल में इस्लामी चरमपंथ और आतंक के उदय पर कोई रोक नहीं है और पूरा राज्य हलाल मांस की दुकानों से भर गया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्रियों वी मुरलीधरन और राजीव चंद्रशेखर की मौजूदगी में कहा था, ‘‘... केरल सीरिया बनने के करीब आ रहा है, यह आम आदमी की आम भावना है।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)