देश की खबरें | अफगान सिखों का समूह काबुल में मारे गए व्यक्ति की अस्थियां लेकर भारत पहुंचेगा

नयी दिल्ली, 30 जून अफगानिस्तान के 11 सिख काबुल में एक गुरुद्वारे पर हमले में मारे गए सविंदर सिंह की अस्थियों के साथ बृहस्पतिवार को भारत पहुंचेंगे। उनके आगमन के लिए भारत सरकार के साथ समन्वय कर रहे लोगों ने यह जानकारी दी।

सरकार ने 19 जून को अफगानिस्तान के 111 हिंदुओं और सिखों को आपात ई-वीजा दिया था। यह कदम तब उठाया गया था जब कुछ घंटों पहले अफगानिस्तान में कार्ते परवान गुरुद्वारे में आतंकवादी हमले में सविंदर सिंह समेत दो लोगों की मौत हो गयी थी।

सविंदर सिंह काबुल में ‘‘पान’’ की दुकान चलाता था और गुरुद्वारे में रहता था। उसका परिवार दिल्ली में रहता है।

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी (एसजीपीसी) ने इंडियन वर्ल्ड फोरम और भारत सरकार के साथ मिलकर 11 अफगान सिखों के आने की व्यवस्था की है।

इंडियन वर्ल्ड फोरम के एक प्रतिनिधि ने कहा, ‘‘अफगानिस्तान के 11 सिख सविंदर सिंह की अस्थियों के साथ दिल्ली हवाई अड्डा पहुंचेंगे। हमले में घायल हुए रकबीर सिंह भी इस समूह का हिस्सा हैं।’’

हवाई अड्डा पर पहुंचने के बाद समूह यहां तिलक नगर में गुरुद्वारा गुरु अर्जन देव जाएगा। उनकी यात्रा का खर्च एसजीपीसी उठा रही है। वह भारत में पुनर्वास की मांग कर रहे लोगों को वित्तीय सहायता भी देगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)