देश की खबरें | ईडी ने भारतीय के तौर पर पश्चिम बंगाल में रह रहे बांग्लादेश के नागरिकों के परिसरों पर छापे मारे

नयी दिल्ली,13 मई प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को कहा कि उसने पश्चिम बंगाल में रह रहे बांग्लादेशी नागरिकों और उनसे जुड़े लोगों के अनेक ठिकानों पर छापे मारे हैं।

ईडी ने कहा कि यह छापे खुद को भारतीय नागरिक ‘बता कर’ फर्जी तरीके से करोड़ों रुपये के सौदे करने के आरोपों पर चल रही जांच के तहत मारे गए।

ईडी ने एक बयान में कहा कि ये छापे राज्य में दस स्थानों पर मारे जा रहे हैं। पश्चिम बंगाल की बांग्लादेश के साथ 2,216 किलोमीटर की अंतरराष्ट्रीय सीमा लगती है।

निदेशालय ने कहा कि बांग्लादेशी नागरिकों जैसे प्रशांत कुमार हल्दर,प्रितीश कुमार हल्दर,प्रनेश कुमार हल्दर और उनसे जुड़े लोगों के परिसरों पर राज्य भर में छापे मारे जा रहे हैं।

बयान में कहा गया, ‘‘ प्रशांत कुमार हल्दर ने शिवशंकर हल्दर के नाम से फर्जी तरीके से राशन कार्ड (पश्चिम बंगाल से), भारतीय मतदाता पहचानपत्र, पैन कार्ड आदि सरकारी पहचान पत्र हासिल कर लिए थे और खुद को भारतीय नागरिक बताता था।’’

निदेशालय ने कहा कि उसके सहयोगियों ने भी यही किया।

निदेशालय ने कहा, ‘‘ईडी को पता चला कि इन बांग्लादेशी नागरिकों ने फर्जी तरीके से हासिल किए गए पहचान पत्रों के जरिए भारत में कंपनियां भी खोली और कोलकाता के पॉश इलाकों सहित विभिन्न स्थानों पर अचल संपत्तियां भी खरीदीं।’’

उसने कहा कि प्रशांत कुमार हल्दर और उसके सहयोगी बांग्लादेश में लाखों रुपये की वित्तीय ‘धोखाधड़ी’ के मामले में आरोपी हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)