देश की खबरें | महंगाई, बेरोजगारी और अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का धरना

रायपुर, पांच अगस्त छत्तीसगढ़ में सत्ताधारी दल कांग्रेस ने शुक्रवार को महंगाई, बेरोजगारी, अग्निपथ योजना और आवश्यक वस्तुओं पर लगाए गए जीएसटी के मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन किया।

कांग्रेस की प्रदेश इकाई के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने बताया कि राजधानी रायपुर के आंबेडकर चौक पर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम और अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

ठाकुर ने बताया कि धरना प्रदर्शन के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने राजभवन की तरफ मार्च किया और राज्यपाल अनुसुईया उइके को ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने सभी ​राज्यों में महंगाई के खिलाफ धरना प्रदर्शन करने का फैसला किया है।

बघेल ने कहा, ''आज पूरे देश की जनता महंगाई के मार से त्राहि-त्राहि कर रही है। चाहे पेट्रोल हो, डीजल हो, रसोई गैस हो, रासायनिक खाद की कीमत हो तथा खाने का तेल हो। सभी की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। सभी की आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है। इसलिए कांग्रेस ने देश भर में और रायपुर में भी धरना प्रदर्शन किया। हम केंद्र सरकार से महंगाई कम करने की अपील करते हैं, जिससे आम जनता को राहत मिल सके।''

मुख्यमंत्री ने कहा, ''एक तरफ कांग्रेस पार्टी आम जनता की लड़ाई लड़ रही है, चाहे वह किसान हो, नौजवान हो, महिला हो या व्यापारी हो। दूसरी ओर केंद्र सरकार विपक्ष के नेताओं और कांग्रेस नेताओं के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है।’’

वहीं पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में महंगाई रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है और बढ़ती कीमतों का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

मरकाम ने कहा कि पहले से महंगे अनाज, आटा, शहद, दही जैसी आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी लगाने से लोगों की चिंता और बढ़ गई है।

उन्होंने केंद्र सरकार पर युवाओं को रोजगार देने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा कि जल्दबाजी में तैयार की गई अग्निपथ योजना ने सशस्त्र बलों की लंबे समय से चली आ रही परंपराओं को नष्ट कर दिया है, साथ ही लाखों बेरोजगारों की उम्मीदों को भी कुचल दिया है।

पार्टी नेताओं ने बताया कि पार्टी के निर्वाचित प्रतिनिधि राज्य के ब्लॉक और जिला मुख्यालयों पर इन मुद्दों को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)