पश्चिम बंगाल: पूर्व राज्यसभा सांसद पवन के वर्मा ने तृणमूल कांग्रेस (TMC) से इस्तीफा दे दिया है.  पवन के. वर्मा (Pavan K. Varma) ने शुक्रवार को पार्टी अध्यक्ष ममता बनर्जी को अपना इस्तीफा सौंप दिया.  पवन के. वर्मा ने ट्वीट किया, "ममता जी कृपया पार्टी से मेरा इस्तीफा स्वीकार करें. मुझे दिए गए स्नेह के लिए मैं आपको धन्यवाद देना चाहता हूं. मैं आपके साथ हमेशा संपर्क में बने रहने की आशा करता हूं. मैं संपर्क में रहने के लिए तत्पर हूं. आप सभी को शुभकामनाएं."

जद (यू) के पूर्व सांसद पवन वर्मा पिछले साल तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गये थे. उन्होंने तब कहा था कि विपक्ष को मजबूत करने के लिए काम करना समय की जरूरत है. वहीं पवन वर्मा और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को 2020 में जद (यू) से उस वक्त निष्कासित कर दिया गया था, जब उन्होंने विवादास्पद संशोधित नागरिकता कानून (CAA) का खुलकर विरोध किया था.

जब पवन वर्मा और प्रशांत किशोर ने 2020 में विवादास्पद संशोधित नागरिकता कानून का विरोध किया था तब जद (यू) का बीजेपी से गठबंधन था, लेकिन इसी हफ्ते जद (यू) का बीजेपी से गठबंधन टूट गया है. सीएम नीतीश कुमार के वापस महागठबंधन में लौटने के कारण पवन वर्मा का तृणमूल कांग्रेस छोड़ना माना जा रहा है.

(SocialLY के साथ पाएं लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज, वायरल ट्रेंड और सोशल मीडिया की दुनिया से जुड़ी सभी खबरें. यहां आपको ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर वायरल होने वाले हर कंटेंट की सीधी जानकारी मिलेगी. ऊपर दिखाया गया पोस्ट अनएडिटेड कंटेंट है, जिसे सीधे सोशल मीडिया यूजर्स के अकाउंट से लिया गया है. लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है. सोशल मीडिया पोस्ट लेटेस्टली के विचारों और भावनाओं का प्रतिनिधित्व नहीं करता है, हम इस पोस्ट में मौजूद किसी भी कंटेंट के लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करते हैं.)