Nirajala Ekadashi Greetings 2021: निर्जला एकादशी पर ये Wallpapers और HD Images भेजकर दें शुभकामनाएं
Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

निर्जला एकादशी हिंदुओं के लिए सबसे शुभ एकादशी में से एक है, क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि इस दिन एक दिन का उपवास रखने वाले भक्तों को पूरे वर्ष पुण्य मिलता है. यह एकादशी ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष को पड़ती है और यह व्रत निर्जला रखा जाता है इसलिए इसे निर्जला एकादशी कहा जाता है. इस एकादशी को भीमसेनी एकादशी (Bhimseni Ekadashi) के रूप में भी जाना जाता है, इस दिन भीम ने महाभारत काल के दौरान महर्षि वेद व्यास की सलाह पर निर्जला एकादशी का व्रत रखा था. आज 21 जून को यह शुभदिन मनाया जा रहा है. इस दिन, भक्त निर्जला व्रत रखते हैं और भगवान विष्णु की पूजा कर पुण्य प्राप्त करते हैं. यह भी पढ़ें: Nirjala Ekadashi 2020 Messages: निर्जला एकादशी पर इन भक्तिमय हिंदी WhatsApp Stickers, Facebook Greetings, GIF Images, Quotes, Wallpapers, SMS के जरिए दें प्रियजनों को शुभकामनाएं

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार महाभारत के दौरान भीम ने महर्षि वेद व्यास से पूछा था कि उन्हें बिना व्रत रखे एकादशी के व्रत का पुण्य कैसे प्राप्त हो सकता है. इसके लिए व्यास ने उन्हें निर्जला व्रत रखने की सलाह दी, यानी भोजन और पानी से परहेज. निर्जला एकादशी का जो कोई भी व्रत करता है उसे सभी एकादशी व्रत का फल मिलता है. भगवान विष्णु को एकादशी तिथि प्रिय होती है. इस दिन विधि- विधान से भगवान विष्णु की पूजा- अर्चना करनी चाहिए. भगवान विष्णु की कृपा से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं. निर्जला एकादशी पर आप अपने प्रियजनों को शुभकामनाएं देना चाहते हैं तो नीचे दिए गए ग्रीटिंग्स भेजकर दे सकते हैं.

हैप्पी निर्जला एकादशी 2021

Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

हैप्पी निर्जला एकादशी 2021

Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

हैप्पी निर्जला एकादशी 2021

Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

हैप्पी निर्जला एकादशी 2021

Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

हैप्पी निर्जला एकादशी 2021

Nirajala Ekadashi Wishes 2021 ( Photo Credit: File Photo)

निर्जला एकादशी व्रत में जल ग्रहण नहीं किया जाता है. इस दिन जल का त्याग करें. व्रत का पारण करने के बाद ही जल का सेवन किया जाता है. इस पावन दिन भगवान विष्णु के साथ ही माता लक्ष्मी की पूजा भी की जाती है. हमारी ओर से आप सभी को निर्जला एकादशी की शुभकामनाएं!