देश की खबरें | ऋषिकेश-कर्णप्रयाग और उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला परियोजनाओं के लिए स्विस कंपनियों के साथ साझेदारी

नयी दिल्ली, 12 फरवरी रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने राज्यसभा में बताया है कि भारतीय रेलवे ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग नयी रेलवे लाइन और उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक सहित विभिन्न परियोजनाओं के लिए सुरंग बनाने के कार्यों के लिए स्विटजरलैंड की कंपनियों के साथ साझेदारी की है।

भाजपा सांसद विजय पाल सिंह तोमर के एक सवाल के लिखित जवाब में वैष्णव ने नौ फरवरी को उच्च सदन को यह भी बताया कि रेलवे क्षेत्र में तकनीकी सहयोग के लिए स्विस परिसंघ के पर्यावरण, परिवहन, ऊर्जा और संचार (डीईटीईसी) के संघीय विभाग और रेल मंत्रालय के बीच एक समझौता ज्ञापन विचाराधीन है।

तोमर का प्रश्न भारतीय रेलवे की परिचालन दक्षता को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रेलवे और उसके स्विस समकक्ष के बीच समझौता ज्ञापन के बारे में था।

उन्होंने यह भी जानना चाहा कि क्या सरकार ने मौजूदा प्रौद्योगिकी के कुशल उपयोग के लिए अपने स्विस समकक्ष के साथ सहयोग करने के लिए विशेष रूप से ‘हब एंड स्पोक मॉडल’ और सुरंग बनाने के उन्नत तकनीक के क्षेत्रों में कोई उपाय किया है, ।

वैष्णव ने कहा कि भारतीय रेलवे के केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग नई रेलवे लाइन और उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक जैसी विभिन्न परियोजनाओं के लिए सुरंग बनाने के क्षेत्र में स्विस कंपनियों के साथ साझेदारी की है।

करीब 125 किलोमीटर लंबी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग परियोजना का विकास रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) और उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला परियोजना का विकास भारतीय रेलवे निर्माण अंतरराष्ट्रीय लिमिटेड (इरकॉन) के तहत किया जा रहा है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)