ताजा खबरें | नवीन पटनायक से कोई विवाद नहीं, लेकिन ‘बाहरी’ अधिकारी का ओडिशा सरकार चलाना चिंता का विषय : शाह

कटक, 15 मई केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा कि ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ कोई विवाद नहीं है, लेकिन राज्य प्रशासन का संचालन प्रदेश से बाहर के एक अधिकारी द्वारा किया जाना चिंता का विषय है।

शाह ने यहां रोड शो के दौरान एक समाचार चैनल से बातचीत के दौरान कहा, ‘‘नवीन बाबू से हमारा कोई विवाद नहीं है, लेकिन जिस तरह से बाहर के एक अधिकारी नवीन पटनायक के नाम पर राज्य सरकार चला रहे हैं। मुझे लगता है कि ओडिशा के लोगों को इससे काफी परेशानी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह ओडिया गौरव, ओडिया प्रतिष्ठा का मुद्दा है।’’

ओडिशा के लोगों में राम मंदिर के प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा, ‘‘अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में बाधा डालने के प्रयास को लेकर ओडिशा के लोगों में गुस्सा है।’’

इससे पहले, गंजाम जिले के सोरोदा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने आरोप लगाया कि जब पूरा देश राम मंदिर उत्सव मना रहा था, तो नवीन पटनायक सरकार ने लोगों को कार्यक्रम में भाग लेने से रोकने के लिए विभिन्न तरीके अपनाए।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं नवीन बाबू को बताना चाहता हूं कि श्रीराम उत्सव समारोह में बाधा डालने वालों को ओडिशा के लोग कभी माफ नहीं करेंगे।’’

भगवान जगन्नाथ मंदिर के मुद्दे पर शाह ने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के छह घंटे के भीतर पुरी में श्री मंदिर के सभी चार द्वार भक्तों के लिए खोल दिए जाएंगे।

इसके अलावा उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि नई भाजपा सरकार रत्न भंडार की गायब चाभी की जांच के लिए गठित न्यायिक आयोग की रिपोर्ट को भी सार्वजनिक करेगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)