विदेश की खबरें | भारतीय छात्रा ने नए वैश्विक पुरस्कार के लिए अंतिम 10 में जगह बनाई

(अदिति खन्ना)

लंदन, 14 अक्टूबर भारत की एक प्रतिभाशाली छात्रा को एक नए वैश्विक पुरस्कार के लिए अंतिम 10 प्रतिभागियों में शामिल किया गया है। चेग डॉट आर्ग ग्लोबल स्टूडेंट प्राइज, 2021 के तहत किसी ऐसे असाधारण प्रतिभाशाली विद्यार्थी को एक लाख अमेरिकी डॉलर का पुरस्कार मिलेगा जिसने शिक्षा और समाज पर वास्तविक असर डाला है।

झारखंड की 18 वर्षीय सीमा कुमारी ने प्रतिष्ठित हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाई शुरू की है। सीमा को दुनियाभर के 94 देशों के 3,500 से अधिक आवेदकों में से चुना गया।

सीमा ने अपने गांव की बाल विवाह सहित विभिन्न रूढ़ियों का सामना करते हुए महिला सशक्तिकरण संगठन ‘युवा’ की मदद से अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित किया।

सीमा ने अंतिम 10 प्रतिभागियों में जगह बनाने पर खुशी जताते हुए कहा कि वह इससे उत्साहित हैं और उन्हें उम्मीद है कि उन्हें संगठन ‘युवा’ के लिए और अधिक मदद मिलेगी और उनकी तरह और भी कई लड़कियों को बाल विवाह से बचने तथा आर्थिक रूप से स्वावलंबी होने में मदद मिलेगी।

सीमा ने ‘युवा’ द्वारा संचालित एक फुटबॉल टीम में खेलना शुरू किया था और बाद में उन्होंने अन्य बच्चों को भी फुटबॉल खेलना सिखाया। सीमा युवतियों के लिए विभिन्न विषयों पर कार्यशालाएं चलाती हैं जिससे उन्हें आत्मविश्वास हासिल करने में मदद मिलती है।

सीमा ने छात्रवृत्ति के साथ 2021 में हार्वर्ड विश्वविद्यालय में अपनी पढ़ाई शुरू की है। सीमा ने कहा कि यदि उन्हें यह पुरस्कार मिलता है तो वह मिलने वाली राशि का उपयोग अपने गांव की महिलाओं की मदद के लिए एक छोटा व्यवसाय शुरू करने में करेगी।

पुरस्कार के विजेता की घोषणा 10 नवंबर को पेरिस में यूनेस्को मुख्यालय में एक डिजिटल समारोह में की जाएगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)