देश की खबरें | अगर और लोग भी एक ही तरह की राजनीति करते हैं तो वे अलग कैसे हैं : सुरजेवाला

चंडीगढ़, 25 नवंबर भारतीय जनता पार्टी पर चुटकी लेते हुए कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि भगवा पार्टी निर्वाचित सरकारों को सत्ता से बाहर करने के लिए ‘‘नोट की ताकत’’ का इस्तेमाल करती है तो अगर अन्य लोग भी ऐसी ही राजनीति करते हैं तो फिर वे कैसे अलग हैं।

उनकी यह टिप्पणियां तब आयी है जब मेघालय के 12 कांग्रेस विधायक तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं।

सुरजेवाला पार्टी के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी की उन टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसने उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को न केवल मेघालय में बल्कि पूरे पूर्वोत्तर में तोड़ने की साजिश रची गयी है।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘लोकतंत्र में लोग आपको निर्वाचित करते हैं। बाकी सब लोकतंत्र की हत्या है और लोगों के वोट के साथ विश्वासघात है, न इससे कम और न इससे ज्यादा है। क्यों हर कोई भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाता है क्योंकि मोदी वोट की ताकत में यकीन नहीं रखते।’’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुरजेवाला ने कहा, ‘‘भाजपा निर्वाचित सरकारों को सत्ता से बाहर करने के लिए नोट की ताकत का इस्तेमाल करती रही है। उन्होंने देशभर में इसका प्रयोग किया। वे कई मामलों में सफल हुए जैसे कि कर्नाटक, गोवा, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड में और राजस्थान में भी कोशिश की गयी। अरुणाचल प्रदेश में सफल कोशिश की गयी जहां विधानसभा की एक निजी होटल में बैठक हुई।’’

उन्होंने आरोप लगाया कि मेघालय में भी ऐसी कोशिशें की गयी। उन्होंने पूछा, ‘‘इसलिए हम मोदी की आलोचना करते हैं। अगर आप भी ऐसी ही राजनीति करते हैं तो आप अलग कैसे हैं?’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं तृणमूल कांग्रेस और आप में अपने दोस्तों को स्पष्ट करना चाहूंगा। टीएमसी गोवा में पिछला चुनाव लड़ी थी। पांच वर्षों से वे लापता थे, चुनावों से तीन महीने पहले वे वापस आ गए, उन्होंने लुभाने की कोशिश की, राज्यसभा सीटें देने का वादा किया और फिर से जगह बनायी। यह उनका लोकतांत्रिक अधिकार है, मैं उस पर सवाल नहीं खड़ा करूंगा, हर कोई अपनी पार्टी बना सकता है। लेकिन ऐसे राज्य में जहां भाजपा हारने वाली है और कांग्रेस अगली सरकार बनाएगी तो वहां कांग्रेस पार्टी को कमजोर करके आप भाजपा को मजबूत कर रहे हैं या उससे लड़ रहे हैं। टीएमसी या आप में मेरे सभी मित्रों को इस सवाल का जवाब अपने आप से पूछने की जरूरत है।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)