देश की खबरें | केरल सरकार ने समुद्र में मछली पकड़ने के संबंध में केंद्र को भेजी थी चिट्ठी : चेन्नीथला

तिरुवनंतपुरम, 22 फरवरी केरल में वाम सरकार के लिए मुश्किलें बढ़ाते हुए विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला ने सोमवार को राज्य की ओर से केंद्र को भेजे गए पत्र की एक प्रति जारी करते हुए आरोप लगाया कि सरकार ने समुद्र में मछली पकड़ने के लिए अमेरिका की एक कंपनी के साथ समझौता किया था।

दिसंबर 2019 में भेजे गए कथित पत्र में राज्य के प्रधान सचिव के आर ज्योतिलाल ने केंद्र से अमेरिकी कंपनी ईएमसीसी इंटरनेशनल के बारे में सत्यापन का अनुरोध किया था।

अधिकारी ने पत्र में कहा था कि कंपनी समुद्र में मछली पकड़ने से जुड़ी तकनीक को बेहतर करने के लिए केरल के साथ भागीदारी करने को इच्छुक है।

कांग्रेस नेता चेन्नीथला ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार को अच्छी तरह पता था कि कंपनी की योजना समुद्र में मछली पकड़ने की थी। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन और मत्स्य पालन मंत्री जे मर्सीकुट्टी अम्मा ने इन आरोपों को खारिज किया है।

चेन्नीथला ने पूछा, ‘‘वे कह रहे हैं कि मुख्यमंत्री और अन्य संबंधित मंत्रियों को कंपनी और इस परियोजना के बारे में पता नहीं था। तब सरकार ने केंद्र को कैसे पत्र भेज दिया।’’

उन्होंने आरोप लगाया कि सारा झूठ उजागर हो गया है और यह लाखों मछुआरों को समुद्र की संपदा से दूर रखने की ‘‘बड़ी साजिश’’ है।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को विपक्ष के इन आरोपों को खारिज किया था कि राज्य सरकार ने गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए अमेरिकी कंपनी से कोई समझौता किया है। साथ ही उन्होंने कहा था कि किसी भी विदेशी कंपनी को राज्य के समुद्री क्षेत्र में गहरे समुद्र में मछली पकड़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)