जरुरी जानकारी | चिप की कमी से यात्री वाहनों की रवानगी में 41 फीसदी की गिरावट

नयी दिल्ली, 14 अक्टूबर ऑटो उद्योग के संगठन सियाम ने बृहस्पतिवार को कहा कि ऑटोमोबाइल विनिर्माता सेमीकंडक्टर की कमी के कारण पर्याप्त इकाइयों का उत्पादन करने के लिए जूझ रहे हैं, जिसके चलते भारत में यात्री वाहनों की थोक बिक्री में सितंबर में सालाना आधार पर 41 फीसदी की गिरावट हुई।

पिछले महीने यात्री वाहनों की बिक्री 1,60,070 इकाई रही थी, जो एक साल पहले की इसी अवधि में 2,72,027 इकाई थी।

सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के ताजा आंकड़ों के अनुसार डीलरों को दोपहिया वाहनों की रवानगी भी सितंबर 2020 में 17 प्रतिशत गिरावट के साथ 15,28,472 इकाई रही, जो सितंबर 2020 में 18,49,546 इकाई थी।

इस दौरान मोटरसाइकिल की रवानगी में 22 प्रतिशत की गिरावट हुई।

सियाम के अध्यक्ष केनिची आयुकावा ने कहा, ‘‘भारतीय ऑटोमोबाइल उद्योग को नई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। जहां एक ओर हम वाहनों की मांग में सुधार देख रहे हैं, वहीं दूसरी ओर सेमीकंडक्टर चिप्स की कमी उद्योग के लिए एक बड़ी चिंता का कारण बन रही है। कई सदस्यों ने अपनी उत्पादन योजनाओं में कटौती की है।’’

उन्होंने कहा कि त्योहारी सत्र की मांग के साथ कुछ लोकप्रिय मॉडलों के लिए ग्राहकों को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)