OMG! इस फल का एक टुकड़ा बन सकता है मौत का कारण, जानें दुनिया के सबसे जहरीले पेड़ से जुड़ी दिलचस्प बातें
मैंशीनील (Photo Credits: Pixabay)

जिस तरह से कई पशु-पक्षी विषैले होते हैं और इंसानों के लिए घातक होते हैं, उसी तरह से कुछ वनस्पतियां और उनके फल भी इंसानों के लिए नुकसानदेह माने जाते हैं. वैसे तो प्रकृति द्वारा बनाई गई हर एक चीज खूबसूरत है, लेकिन कई बार कुछ चीजें किसी न किसी के लिए खतरनाक भी साबित हो जाती हैं. इसी कड़ी में आज हम एक ऐसे पेड़ (Tree) के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिसे दुनिया का सबसे खतरनाक पेड़ (Poisonous Tree) माना जाता है और उसके फल का एक टुकड़ा भी मौत का कारण बन सकता है. दुनिया के इस सबसे जहरीले पेड़ को मैंशीनील (Manchineel Tree) के नाम से जाना जाता है, जो मुख्यतौर पर फ्लोरिडा और कैरेबियन सागर (Florida and the Caribbean Sea) के बीच तटों पर पाया जाता है.

कहा जाता है कि यह पेड़ इतना ज्यादा जहरीला होता है कि इसके संपर्क में गलती से भी अगर कोई आ जाए तो उसके शरीर पर छाले पड़ जाते हैं. इससे भी हैरान करने वाली बात तो यह है कि इस फल का एक टुकड़ा अगर गलती से खा लिया तो यह मौत का कारण भी बन सकता है. बताया जाता है कि इस जहरीले पेड़ और इसके फल को लेकर कई शोध भी किए गए हैं. देखने में यह जहरीला फल बिल्कुल छोटे सेब की तरह नजर आता है.

इस जहरीले पेड़ को लेकर यह भी कहा जाता है कि अगर इस वृक्ष के किसी भी हिस्से का संपर्क इंसान के आंखों से हो जाए तो वह अंधा भी हो सकता है. इस पेड़ के जड़, तने और फल से लेकर हर हिस्सा जहरीला होता है, इसलिए इस प्रजाति के पेड़ जिस जगह पर भी मौजूद हैं वहां सावधान रहने की चेतावनी वाले बोर्ड लगाए गए हैं. यह भी पढ़ें: Climate Change: 55 जंगलों में 140 पेड़ों की प्रजातियों पर तीन साल तक हुआ बड़ा रिसर्च, सामने आया चौंका देने वाला सच

निकोला एच स्ट्रिकलैंड नाम के एक वैज्ञानिक की मानें तो एक बार वो अपने कुछ दोस्तों के साथ कैरेबियन आइलैंड के एक बीच पर गए थे, जहां उनके दोस्तों ने गलती से इस जहरीले पेड़ के फल को खा लिया था, जिसके कुछ देर बाद ही उन्हें जलन होने लगी और पूरे शरीर में सूजन आ गई. हालांकि राहत की बात तो यह रही कि उन्हें फौरन इलाज मिल गया, जिसके चलते उनकी जान बच गई.