Shrawan Maas 2021 श्रावण मास में शिवजी अथवा उनके प्रतीकों को सपने में देखना शुभ है या अशुभ? जानें स्वप्न शास्त्र के संकेत!
सावन शिवरात्रि 2021 (Photo Credits: File Image)

शिव पुराण में उल्लेखित है कि करोड़ों जन्म पाने के बाद ही मनुष्य को भगवान शिवजी साक्षात स्वरूप अथवा सपने में दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हो पाता है, और मनुष्य उनकी पूजा कर पाता है. ऐसे में अगर भगवान शिवजी अथवा उनसे जुड़े प्रतीक चिह्नों के सपने दिखते हैं तो इसे शिवजी की विशेष कृपा का संकेत माना जा सकता है, और अगर यही सपना शिवजी के प्रिय श्रावण मास में दिखता है तो इस सपने का महात्म्य और भी ज्यादा बढ़ जाता है. आइये जानते हैं कि भगवान शिव के विभिन्न रूपों के सपनों पर क्या कहता है स्वप्न शास्त्र.

* सपने में भगवान शिव अथवा उनकी प्रतिमा, तस्वीर या शिवलिंग का दिखना शुभ शकुन होता है. सपने में शिवजी के आने का प्रतीक है कि आप सारे पापों, भय और संकटों से मुक्ति पानेवाले हैं. यह आगामी संकटों, एवं बुरे दिनों से मुक्ति दिलाने का भी संकेत हो सकता है.

* अगर आप भगवान शिव का किसी मकसद से पूजा-अनुष्ठान करवा रहे हैं और रात में उनके किसी भी रूप का आपको दर्शन होता है, तो इस विश्वास को पुख्ता कर लें कि आपका उद्देश्य पूरा होने वाला है, लेकिन आप अनुष्ठान पूरा अवश्य करायें. ऐसे सपने बहुत दुर्लभ होते हैं.

* अगर किसी रोगी व्यक्ति को शिव जी का सपना आता है तो कह सकते हैं कि शिवजी की कृपा से आप शीघ्र ही अमुक रोग से मुक्ति पा सकते हैं. अगर कोई बड़ी एवं असाध्य बीमारी है तो व्यक्ति को किसी योग्य विद्वान से मृत्युंजय-मंत्र का अनुष्ठान अवश्य करवाना चाहिए.

* सपने में शिवजी की पूजा करना अथवा शिवलिंग पर जलाभिषेक का सपने दिखना किसी कार्य सिद्धी का संकेत माना जा सकता है. आप जिस कार्य को कर रहे हैं, उसके प्रति समर्पण, निष्ठा बनाये रखें. बेहतर होगा आप किसी सोमवार को पास के मंदिर में शिवलिंग पर जलाभिषेक कर लें.

* अगर कोई कुंवारा अथवा कुंवारी व्यक्ति सपने में शिवजी का जलाभिषेक करता देखता है तो इसका आशय शीघ्र ही वह अपने मनपसंद व्यक्ति से विवाह करने वाला है, अगर कोई विवाहित व्यक्ति यह सपना देखता है तो इसका यह संकेत है कि उस पर शिवजी की कृपा बरसने वाली है.

* भगवान शिव एवं माता पार्वती आदर्श दांपत्य के प्रतीक माने जाते हैं. इसलिए अगर कोई सपने में शिवजी एवं माता पार्वती को देखता है तो यह इस बात का प्रतीक हो सकता है कि उसके जीवन में धन-वैभव मिलने वाला है, और उसके दाम्पत्य जीवन में कुछ सुखमय होनेवाला है. यह भी पढ़ें : Muharram 2021: क्या है यौमे आशूरा? जानें मुहर्रम का महत्व, तारीख तथा इमाम की शौर्य एवं शहादत की गाथा!

* अगर आपके घर-परिवार क्लेष, मनमुटाव, विवाद अथवा किसी प्रकार के बुरे वक्त से गुजर रहा है और आपको सपने में शिवजी का पूरा परिवार (शिवजी, माँ पार्वती, श्रीगणेश जी एवं स्वामी कार्तिकेय जी) दिखता है तो यह संकेत हो सकता है कि आपका परिवारिक का संकट शीघ्र ही टलनेवाला है.

* सपने में शिवजी की तीसरी आंख का दिखना बेहद शुभ माना जाता है. यह इस बात का संकेत हो सकता है कि आपके जीवन एवं कार्यों में महत्वपूर्ण परिवर्तन होनेवाला है. सजग एवं सतर्क रहकर अपने कार्य को अंजाम दें, आप तेजी से तरक्की की दिशा में बढ़ने वाले हैं.

* भगवान शिव का त्रिशूल मानव के भूत, भविष्य एवं वर्तमान का निर्धारण करता है. इसलिए अगर सपने में आप शिवजी का त्रिशूल देखते हैं तो यह इस बात की ओर इशारा करता है कि आपके जीवन के सारे संकट एवं भय खत्म होकर जीवन में सौभाग्य का आगमन होनेवाला है.