World Youth Skill Day 2020: वर्ल्ड यूथ स्किल डे के मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी बोले-कोरोना संकट ने नेचर ऑफ जॉब को बदल दिया
पीएम मोदी (Photo Credits-BJP Twitter)

नई दिल्ली. वर्ल्ड यूथ स्किल डे के मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने युवाओं को संबोधित किया है. मोदी ने कहा आज का दिन 21वीं सदी के युवाओं के लिए समर्पित है. साथ ही युवाओं का हौसला बढाते हुए उन्होंने कहा कि आज स्किल युवाओं की सबसे बड़ी ताकत है. पूरी दुनिया में कोविड-19 ने कोहराम मचाया हुआ है. इसे लेकर पीएम ने कहा कि कोरोना संकट ने नेचर ऑफ जॉब को बदल दिया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के दौर में बिज़नेस और बाज़ार इतनी तेजी से बदलते हैं, कि समझ ही नहीं आता रेलिवेंट कैसे रहा जाए. कोरोना के इस समय में तो ये सवाल और भी अहम हो गया है. मैं इसका एक ही जवाब देता हूं,रेलिवेंट रहने का मंत्र है, स्किल, री-स्किल और अपस्किल है. यह भी पढ़ें-पीएम मोदी से बातचीत के बाद सुंदर पिचाई ने की घोषणा, गूगल भारत में अगले 5 से 7 वर्षों में 75,000 करोड़ रुपये का करेगा निवेश

ANI का ट्वीट-

मोदी ने कहा कि स्किल आपके काम की ही नहीं, आपकी भी प्रतिभा को, प्रभाव को, प्रेरक बना देती है और साथियों यहां एक और चीज समझनी बहुत जरूरी है. कुछ लोग ज्ञान और स्किल को लेकर के हमेशा भ्रम में रहते हैं, या भ्रम पैदा करते हैं. उन्होंने कहा कि चार-पांच दिन पहले देश में श्रमिकों की स्किल  मैपिंग का एक पोर्टल भी शुरू किया गया है. यह पोर्टल स्किल्ड लोगों को, स्किल्ड श्रमिकों की मैपिंग करने में अहम भूमिका निभाएगा. इससे एम्प्लॉयर्स एक क्लिक में ही स्किल्ड मैप वाले वर्कर्स तक पहुंच पाएंगे.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज भारत में ज्ञान और स्किल, दोनों में जो अंतर है, उसे समझते हुए ही काम हो रहा है. आज से 5 साल पहले, आज के ही दिन स्किल इंडिया मिशन इसी सोच के साथ शुरू किया गया था.