कर्नाटक में 15 विधानसभा क्षेत्रों पर हुए उपचुनाव के लिए सोमवार सुबह से मतगणना हो रही है. अब तक बीजेपी ने 7 सीटों पर जीत हासिल कर लिया है, जबकि 5 सीटों पर आगे चल रही है. वहीं विपक्षी कांग्रेस ने 2 सीटें जीती, और जनता दल-सेकुलर (जेडीएस) के खाते में एक भी सीट नहीं आई है. एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार आगे है. दक्षिणी राज्य के 15 निर्वाचन क्षेत्रों में उपचुनाव 5 दिसंबर को हुए थे.

कर्नाटक में सत्तारूढ़ बीजेपी ने 223 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए जरुरी आंकड़ों को हासिल कर लिया है. पार्टी ने 15 में से 6 सीटों को जीत लिया है और 6 निर्वाचन क्षेत्रों में आगे हैं. कांग्रेस के खाते में अब तक केवल 1 सीट आई है. जबकि जेडीएस को एक भी सीट मिलती नहीं दिख रही है. विधानसभा अध्यक्ष को छोड़कर बीजेपी के पास 104 सदस्य हैं और उन्हें एक निर्दलीय विधायक का समर्थन प्राप्त है. इस तरह सत्तारूढ़ पार्टी के पास कुल 105 सदस्यों का समर्थन है. जबकि 223 सीटों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 112 सीटें चाहिए.

चुनाव आयोग द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक बीजेपी ने 6 सीटों को जीत लिया है, जबकि 6 पर आगे चल रही है. वहीं कांग्रेस ने भी एक सीट अपने नाम किया है और एक सीट पर आगे चल रही है.

येल्लापुर से बीजेपी उम्मीदवार अराबैल शिवराम हेब्बार कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में जीत दर्ज करने वाले पहले उम्मीदवार बन गए हैं. अभी उपचुनावों के लिए मतगणना चल रही है. निर्वाचन अधिकारियों ने बताया कि हेब्बार ने कांग्रेस के भीमण्ण नाइक को 31,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया.

सभी 15 निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 20 राउंड की मतगणना की जाएगी. जिसमें से दो राउंड पूरे होने की सूचना है.

Load More

बेंगलुरू: कर्नाटक (Karnataka) के 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों के लिये मतगणना कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार सुबह से जारी है. उपचुनाव के नतीजे सूबे के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) की सरकार की दशा-दिशा तय करेंगे. यहां पांच दिसंबर को मत डाले गए थे.

चुनाव आयोग के एक अधिकारी के मुताबिक 15 विधानसभा सीटों की मतगणना आज सुबह आठ बजे से 11 केंद्रों पर जारी है. इनमें चार शहरी सीटों के लिए तीन केंद्र बेंगलुरू में है. पोस्टल मतों की मतगणना पहले की जाएगी और इसके बाद ईवीएम के मतों की गणना की जाएगी.

विधानसभा सीटों पर वोटों की गिनती शुरू-

उल्लेखनीय है कि विधानसभा में उनकी पार्टी को कम से कम छह सीटों की दरकार है. जेडीएस और कांग्रेस की सरकार गिरने के बाद राज्य में बीजेपी की सरकार बनी थी. चार महीने पुरानी बीजेपी सरकार के लिए उपचुनावों के परिणाम महत्वपूर्ण हैं क्योंकि सत्तारूढ़ पार्टी को 223 सदस्यीय विधानसभा में कम से कम सात सीटें चाहिए, जिससे बहुमत के लिए 112 का जादुई आंकड़ा हासिल हो सके.

शुरुआती रुझान सुबह 9 बजे से मिलने शुरू हो गए है. हालांकि असल नतीजे शाम तक जारी हो सकते है. हर निर्वाचन क्षेत्र में 20 राउंड की मतगणना के पूरा होने के बाद परिणाम की घोषणा की जाएगी. 15 निर्वाचन क्षेत्रों में करीब 67.9 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था.