झारखंड में गुरुवार को कोरोना के 76 नए मरीज पाए गए. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,268 हुई. वहीं 1,035 मामले एक्टिव हैं. जबकि 2,210 लोग ठीक हुए हैं. 23 लोगों की अब तक मौत हुई हैं.

बीसीसीआई CEO राहुल जोहरी के इस्तीफे को लेकर बीसीसीआई सूत्रों के हवाले से खबर है कि उनका इस्तीफा गुरुवार को स्वीकार कर लिया गया है.

मुंबई के केईएम अस्पताल में एक कोरोना मरीज ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. वह  कोरोना से ठीक हो गया था. लेकिन ब्लड कैंसर से पीड़ित था.

मुंबई के केईएम अस्पताल में एक कोरोना मरीज ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. वह  कोरोना से ठीक हो गया था. लेकिन ब्लड कैंसर से पीड़ित था.

विकास दुबे को गिरफ्तार करने को लेकर उज्जैन के एसपी मनोज कुमार सिंह ने कहा कि अगर थोड़ी सी भी गलती होती तो वह दर्शन करने के बाद वहां से भाग जाता

दिल्ली के गुरुवार को कोरोना के 2187 नए मरीज पाए गए हैं. वहीं 45 लोगों की मौत हुई हैं. जबकि 4027 लोग ठीक हुए हैं. कोरोना के दिल्ली में मौजूदा समय में 1,07,051 मामले हैं.

कोरोना के उत्तराखंड में गुरुवार को 47 नए मरीज पाए गए हैं. वहीं संक्रमण से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़कर 3,305 हो गई. जिसमें 2,672 लोग ठीक हुए हैं. वहीं 558 एक्टिव मामले हैं. जबकि 46 लोगों की मौत हुई है.

बीएसपी प्रमुख मायावती ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि विकास दुबे के साथ सांठगांठ वालों का पर्दाफाश होना चाहिए.

Load More

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली (Delhi) में बढ़ते कोविड-19 (COVID-19) मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने बड़ा फैसला किया है. अब दिल्ली सरकार अपनी संशोधित 'कोविड प्रतिक्रिया योजना' के तहत दिहाड़ी मजदूरों, घरेलू सहायकों, ऑटो चालकों और सब्जी विक्रेताओं का ब्योरा रखने के साथ ही उनकी जांच शुरू करेगी. एक आधिकारिक आदेश में यह जानकारी दी गई है.

स्वास्थ्य सेवाएं महानिदेशालय ने एक आदेश में कहा कि यह निषिद्ध क्षेत्रों, बफर जोन और अन्य इलाकों में घर-घर सर्वे करके अत्यधिक जोखिम की श्रेणी में आने वाले लोगों (60 वर्ष से अधिक और अन्य बीमारियों से ग्रसित) की सूची बनाने के साथ ही इनकी स्क्रीनिंग शुरू करेगी.

आज के सभी मुख्य समाचार और ब्रेकिंग न्यूज पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें.

आदेश के मुताबिक, नगर निगम, आरडब्ल्यूए, पुलिस एवं अन्य विभागों की सहायता से 'विशेष निगरानी समूह' को लेकर सूची तैयार की जाएगी, जिसमें रिक्शा चालक, प्लम्बर,बिजली का काम करने वाले, बढ़ई, ऑटो-टैक्सी चालक, पार्सल बांटने वाले, घरेलू सहायक आदि शामिल रहेंगे.

इसके मुताबिक, सभी जिलों को 60 वर्ष या इससे अधिक उम्र वाले लोगों और ऐसे लोगों की सूची तैयार करने को कहा गया है जो कि उच्च रक्तचाप, मधुमेह और कैंसर जैसी बीमारियों से ग्रसित हैं.