राजधानी दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां प्रचार में जुटी हैं. ऐसे में बिहार के मुख्यमंत्री और जद (यू) अध्यक्ष नीतीश कुमार भी दिल्ली में जद (यू)-भाजपा गठबंधन के लिए चुनाव प्रचार करने वाले हैं. 

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: गुजरात के सीएम रुपानी ने कहा- अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप भी गुजरात का साबरमती रिवरफ्रंट देखने आएंगे.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अरविंद केजरीवाल पर हमला करने हुए कहा कि आप सरकार ने बच्चों के हाथ में पत्थर थमा दिए

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले के मऊ कस्बे में मंगलवार शाम सड़क हादसे में घायल हुए कांग्रेस के बुजुर्ग नेता राजनारायण गर्ग की बुधवार को इलाज के दौरान मौत हो गई. ( इनपुट आईएएनएस)

भड़काऊ बयान देने को लेकर चुनाव आयोग के नोटिस के बाद बीजेपी सांसद परवेश वर्मा ने कहा कि चुनाव आयोग को लगता है कि मैंने कुछ गलत कहा है. लेकिन मैंने कुछ गलत नहीं कहा है. नोटिस का कल दूंगा जवाब.

देशद्रोह का आरोप: शरजील इमाम को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के ऑफिस ले जाया गया

विजय चौक पर संपन्न हुआ बीटिंग रिट्रीट समारोह.

देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार शरजील इमाम को साकेत कोर्ट ने 5 दिन के लिए भेजा दिल्ली क्राइम ब्रांच के हिरासत में . .

जम्मू-कश्मीर में बुधवार को भूकंप का हल्का झटका महसूस किया गया जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.3 थी. मौसम विभाग के निदेशक सोनम लोटस ने कहा कि पूर्वाह्न करीब 11:40 बजे भूकंप का झटका महसूस किया गया जो कुछ सेकंड तक चला. (इनपुट भाषा)

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में बुधवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लेकर हुई झड़प के दौरान दो लोगों की मौत हो गई और एक व्यक्ति को चोट आई है. पुलिस ने कहा कि इस घटना में घायल एक व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. (इनपुट आईएएनएस)

Load More

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप और मर्डर (Nirbhaya Gang Rape Case) के चार दोषियों में से एक मुकेश कुमार सिंह की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज (29 जनवरी) फैसला सुनाने वाला है. कोर्ट ने इस मामलें में अपना फैसला मंगलवार को सुनवाई के बाद सुरक्षित रख लिया था. दोषी मुकेश ने अपने डेथ वॉरंट को टालने और राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज होने के विरोध में एक याचिका दायर की है. दरअसल दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को फांसी पर चढ़ाने के लिए एक फरवरी की तारीख तय की है.

जस्टिस आर भानुमति की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय बेंच ने कहा कि वह दोषी मुकेश की याचिका पर बुधवार को फैसला सुनाएगी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 17 जनवरी को मुकेश की दया याचिका को खारिज कर दिया था. 32 वर्षीय मुकेश ने पिछले सप्ताह दया याचिका पेश की थी, जिसे 17 जनवरी को राष्ट्रपति ने खारिज कर दिया था.

इससे पहले शीर्ष अदालत ने आरोपियों को दोषी ठहराए जाने और फांसी की सजा के खिलाफ दायर उनकी याचिका को खारिज कर दिया था, जिसके बाद मुकेश ने राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका की अर्जी लगाई थी.

गौरतलब है कि 16 दिसंबर, 2012 को हुई इस घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था. छह आरोपियों ने 23 वर्षीय महिला के साथ चलती बस में मिलकर दुष्कर्म किया था और उसकी बुरी तरह पिटाई की थी. बाद में छात्रा की मौत हो गई थी. सभी छह आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. आरोपियों में से एक नाबालिग था, इसलिए उसे किशोर अदालत के समक्ष प्रस्तुत किया गया. वहीं एक आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी.