देश की खबरें | कांग्रेस द्वारा राम मंदिर उद्घाटन का न्योता ठुकराने पर राहुल को माफी मांगनी चाहिए: मोहन यादव

भोपाल, पांच मार्च मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपनी पार्टी द्वारा जनवरी में अयोध्या में राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के निमंत्रण को स्वीकार नहीं करने के लिए पश्चाताप करना चाहिए और माफी मांगनी चाहिए।

गांधी का लोकसभा चुनाव से पहले 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' के दौरान मंगलवार शाम मुख्यमंत्री यादव के गृह क्षेत्र उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर में पूजा करने का कार्यक्रम है।

इसके बारे में पूछे जाने पर, यादव ने कहा कि उज्जैन, भगवान की पूजा करने का शहर है।

मुख्यमंत्री ने कहा, ''मैं कामना करता हूं कि उन्हें (गांधी को) भगवान के दर्शन हों। भगवान उन्हें मध्य प्रदेश की धरती पर सद्बुद्धि दें। उन्हें इस बात का भी मलाल होना चाहिए कि उनकी पार्टी ने भगवान राम के मंदिर के उद्घाटन का निमंत्रण क्यों ठुकरा दिया। उन्हें जनता से माफी मांगनी चाहिए।’’

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद अयोध्या में मंदिर का निर्माण किया गया।

यादव ने कांग्रेस नेता का नाम लिए बगैर कहा, "उनके (कांग्रेस) एक नेता अब भी अयोध्या में जिस जगह पर राम मंदिर का निर्माण हुआ है, उस पर पश्चाताप कर रहे हैं और कह रहे हैं कि वहां एक ढांचा गिराया गया था। राहुल गांधी को इस पर भी स्पष्टीकरण देना चाहिए।"

उन्होंने कहा कि जो पार्टी अपने शासनकाल के दौरान अन्याय में शामिल रही, वह 'न्याय यात्रा' निकाल रही है। उन्होंने कहा कि इसलिए राहुल गांधी की यात्रा सार्थक नहीं होगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)