विदेश की खबरें | भारतीय मूल के राजा कृष्णमूर्ति ने इलिनॉयस से डेमोक्रेटिक पार्टी के प्राइमरी चुनाव में जीत हासिल की

(ललित के. झा)

वाशिंगटन, 30 जून अमेरिका में भारतीय मूल के सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने इलिनॉयस प्रांत से डेमोक्रेटिक पार्टी के प्राइमरी चुनाव में जीत हासिल की है।

कृष्णमूर्ति ने अपने प्रतिद्वंद्वी जुनैद अहमद द्वारा व्यापक स्तर पर चलाए गए सांप्रदायिक अभियान के बावजूद निर्णायक जनादेश हासिल किया।

इलिनॉयस प्रांत में बेहद लोकप्रिय कृष्णमूर्ति (48) ने जुनैद अहमद को 71 प्रतिशत से अधिक मतों के अंतर से हराया।

कृष्णमूर्ति ने इस जीत के बाद कहा, ‘‘ मैं इस जीत से बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं। इलिनॉयस प्रांत के आठवें जिले के डेमोक्रेटिक पार्टी के प्राइमरी मतदाताओं ने मुझे दोबारा अमेरिकी कांग्रेस का सदस्य बनाने के लिए बड़ी संख्या में मेरे पक्ष में मतदान किया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ इलिनॉयस प्रांत के लोग शांति, प्रगति और समृद्धि चाहते हैं। मैं कांग्रेस में मध्यम वर्ग के लोगों से जुड़े मुद्दों और महिलाओं के गर्भधारण संबंधी अधिकारों की बात करूंगा। इसके अलावा महंगाई और गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भी अपनी आवाज बुलंद करता रहूंगा। मैं आने वाले महीनों में इन मुद्दों को हल करने के लिए अथक प्रयास करना जारी रखूंगा।’’

वह इलिनॉयस के 8वें जिले के लिए अमेरिकी कांग्रेस के सदस्य के रूप में 2017 से काम कर रहे हैं।

कृष्णमूर्ति के माता-पिता तमिलनाडु से हैं। अमेरिकी कांग्रेस के तीन बार सदस्य रह चुके कृष्णमूर्ति का जन्म नई दिल्ली में हुआ था। अमेरिका में आठ नवंबर को होने वाले आम चुनाव में उनका सामना रिपब्लिकन पार्टी के क्रिस डर्गिस से होगा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)