देश की खबरें | सरकार ने टीकों का पर्याप्त भंडार होने के मद्देनजर कोविशील्ड, कोवैक्सीन के निर्यात की अनुमति दी

नयी दिल्ली, 25 नवंबर केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तथा विनिर्माताओं के पास कोविड-19 टीकों के पर्याप्त भंडार होने को ध्यान में रखते हुए कोविशील्ड और कोवैक्सीन की खुराक के वाणिज्यिक निर्यात की अनुमति दी है। आधिकारिक सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह कहा।

हालांकि, निर्यात किये जाने वाले कोविड टीकों की मात्रा पर सरकार हर महीने फैसला करेगी ताकि देश में उसकी उपलब्धता में कोई कमी नहीं होने को सुनिश्चित किया जा सके।

सरकार द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसाईआई) को कोविशील्ड की 50 लाख खुराक नेपाल, ताजिकिस्तान, बांग्लादेश और मोजम्बिक निर्यात करने की अनुमति दिये जाने के साथ भारत ने हाल में संयुक्त राष्ट्र समर्थित ‘कोवैक्स’ को कोविड टीकों की आपूर्ति बहाल की है।

कोविशील्ड टीकों की खेप इस सप्ताह नेपाल और ताजिकिस्तान पहुंचेगी।

एक आधिकारिक सूत्र ने बताया, ‘‘22.72 करोड़ से अधिक बची हुई व उपयोग में नहीं लाई गई कोविड-19 की खुराक अब भी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं। टीकों का उत्पादन बढ़ रहा है और अधिशेष आपूर्ति होगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसे ध्यान में रखते हुए कोविशील्ड और कोवैक्सीन के वाणिज्यिक निर्यात की अनुमति देने का फैसला लिया गया। ’’

एसआईआई में सरकार एवं नियामक मामलों के निदेशक प्रकाश कुमार सिंह ने हाल में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को इस बारे मे अवगत कराया था कि पुणे स्थित कंपनी के पास कोविशील्ड की 24,89,15,000 खुराक है और इसका भंडार प्रतिदिन बढ़ रहा है।

कोविशील्ड और कोवैक्सीन की करीब 31 करोड़ खुराक एसआईआई और भारत बायोटेक से दिसंबर में सरकार को प्राप्त होने की उम्मीद है, जबकि जायडस कैडिला द्वारा तीन खुराक के अपने कोविड टीके जायकोवी-डी की करीब दो करोड़ खुराक की आपूर्ति उस समय तक करने की संभावना है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)