CSK vs RR 12th IPL Match 2021: मोईन अली और रविंद्र जडेजा की फिरकी में उलझा राजस्थान रॉयल्स, चेन्नई सुपर किंग्स 45 रन से जीता
चेन्नई सुपर किंग्स (Photo Credits: Twitter/ IPL)

मोईन अली (Moeen Ali) और रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के फिरकी के जादू से चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में सोमवार को मुंबई (Mumbai) में राजस्थान रॉयल्स (RR) को 45 रन से हराया. सुपरकिंग्स के 189 रन के लक्ष्य का पीछा करती हुई रॉयल्स की टीम मोईन (सात रन पर तीन विकेट) और जडेजा (28 रन पर दो विकेट) की बलखाती गेंदों के अलावा सैम कुरेन (24 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने नौ विकेट पर 143 रन ही बना सकी. रॉयल्स की ओर से सलामी बल्लेबाज जोस बटलर ने सर्वाधिक 49 रन बनाए. उनके अलावा राहुल तेवतिया (20) और जयदेव उनादकट (24) ही 20 रन के आंकड़े को छू पाए. चेन्नई सुपरकिंग्स ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए लेकिन चेतन सकारिया (36 रन तीन विकेट) और क्रिस मौरिस (33 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के बावजूद नौ विकेट पर 188 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया. सुपरकिंग्स का कोई बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाया. फाफ डु प्लेसिस 33 रन बनाकर टीम के शीर्ष स्कोरर रहे जबकि अंबाती रायुडू (27) और मोईन (26) भी अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए. ड्वेन ब्रावो ने अंत में नाबाद 20 रन बनाए. यह भी पढ़ें- IPL 2021 DC vs PBKS: दिल्ली कैपिटल्स के बल्लेबाज शिखर धवन का बड़ा बयान, कहा- अब मैं बड़े शॉट खेलने से नहीं डर रहा हूं.

रॉयल्स ने लक्ष्य का पीछा करते हुए मनन वोहरा का विकेट जल्द गंवा दिया जिन्होंने सैम कुरेन की गेंद पर रविंद्र जडेजा को कैच थमाया. सलामी बल्लेबाज जोस बटलर हालांकि शुरू से ही लय में दिखे. उन्होंने दीपक चाहर की पारी की पहली गेंद पर चौके से खाता खोला लेकिन सात रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब कुरेन की गेंद पर शारदुल ने शॉर्ट थर्ड मैन पर उनका मुश्किल कैच छोड़ दिया.

बटलर ने पांचवें ओवर में चाहर की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन कुरेन ने अगले ओवर में कप्तान संजू सैमसन (01) को मिड आन पर ब्रावो के हाथों कैच करा दिया. टीम ने पावर प्ले में दो विकेट पर 45 रन बनाए.

बटलर ने जडेजा का स्वागत लगातार दो चौकों के साथ किया जबकि शिवम दुबे ने भी शारदुल ठाकुर पर दो चौके मारे. बटलर ने जडेजा की नोबॉल पर छक्का जड़ा लेकिन उनके अगले ओवर में सीधी गेंद को चूककर बोल्ड हो गए. उन्होंने 35 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और दो छक्के मारे. जडेजा ने इसी ओवर में दुबे (17) को पगबाधा करके रॉयल्स को दोहरा झटका दिया. मोईन ने अपने पहले ही ओवर में डेविड मिलर (02) को पगबाधा करने के बाद अगले ओवर में रियान पराग (03) और क्रिस मौरिस (00) दोनों को जडेजा के हाथों कैच करा दिया.

रॉयल्स के रनों का शतक 16वें ओवर में पूरा हुआ. टीम को अंतिम चार ओवर में जीत के लिए 84 रन की दरकार थी. मोईन के 17वें ओवर में सिर्फ चार रन बने जिससे रॉयल्स की जीत की उम्मीद लगभग खत्म हो गई. इससे पहले सुपरकिंग्स की टीम एक समय 13 ओवर में तीन विकेट पर 120 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन अंतिम सात ओवर में टीम 68 रन ही जोड़ सकी.

सैमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और रुतुराज गायकवाड़ तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट की पारी की पहली गेंद पर भाग्यशाली रहे जब स्लिप में राहुल तेवतिया ने उनका कैच टपका दिया. डुप्लेसिस ने दूसरे ओवर में सकारिया पर पारी का पहला छक्का जड़ा. गायकवाड़ हालांकि जीवनदान का फायदा नहीं उठा पाए और मुस्ताफिजुर रहमान की गेंद को हवा में लहराकर मिड आफ पर शिवम दुबे को कैच दे बैठे.

डुप्लेसिस ने पांचवें ओवर में उनादकट पर तीन चौके और एक छक्का जड़कर रन गति में इजाफा किया लेकिन अगले ओवर में मौरिस की गेंद को हवा में खेलकर बाउंड्री पर रियान पराग को कैच दे बैठे. उन्होंने 17 गेंद की पारी में चार चौके और दो छक्के मारे. सुपरकिंग्स की टीम पावर प्ले में दो विकेट पर 46 रन ही बना सकी. मोईन अली ने मुस्ताफिजुर और मौरिस पर छक्के जड़कर तेवर दिखाए लेकिन तेवतिया की गेंद पर पराग को डीप मिडविकेट पर कैच दे बैठे.

सुरेश रैना ने पांचवीं गेंद पर खाता खोलने के बाद पराग पर छक्का जड़ा जबकि अंबाती रायुडू ने भी इस स्पिनर पर छक्का जड़ा. रायुडू ने तेवतिया पर भी लगातार दो छक्के मारे। सुपरकिंग्स के 100 रन 12वें ओवर में पूरे हुए. रायुडू हालांकि 17 गेंद में 27 रन बनाने के बाद सकारिया की गेंद को छह रन के लिए भेजने के प्रयास में बाउंड्री पर पराग को कैच दे बैठे. उन्होंने अपनी पारी में तीन छक्के मारे.

रैना भी सकारिया के इसी ओवर में शॉट सीधे मौरिस के हाथों में खेल गए जिससे टीम का स्कोर पांच विकेट पर 125 रन हो गया. उन्होंने 15 गेंद में 18 रन बनाए. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी 17 गेंद में 18 रन बनाने के बाद सकारिया का शिकार बने जबकि मौरिस ने जडेजा (08) को पवेलियन भेजा. ब्रावो ने आठ गेंद में 20 रन बनाकर टीम का स्कोर 190 के करीब पहुंचाया.