असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल 2019 की कॉपी फाड़ी, विधेयक को बताया देश के लिए खतरनाक 
असदुद्दीन ओवैसी (Photo Credits-ANI Twitter)

नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन बिल 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) को लेकर संसद में घमासान जारी है. विपक्ष इस बिल को लेकर पूरी तरह आक्रामक है. कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी पार्टियां इस बिल का विरोध कर रही हैं. इसी बीच हैदराबाद से सांसद और एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करते हुए सदन के अंदर बिल की कॉपी को फाड़ दिया है. इसके साथ ही ओवैसी ने इस बिल को देश के लिए खतरनाक बताया और कहा कि वे इसका विरोध करते हैं. इसलिए वे सदन के भीतर इस बिल की कॉपी को फाड़ रहे हैं. बताना चाहते है ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ ने अपनी पूरी बात सदन के पटल पर रखी और उसके बाद बिल की कॉपी को फाड़ दिया.

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने लोकसभा (Lok Sabha) में बोलते हुए महात्मा गांधी के साथ हुए दक्षिण अफ्रीका के घटना का भी जिक्र किया. उन्होंने आगे कहा कि  देश को दोबारा से बांटने के लिए यह बिल लाया गया है. वही कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने इस बिल को लेकर संसद में चर्चा के दौरान कहा कि नागरिकता संशोधन बिल संविधान के खिलाफ है.यह भी पढ़े-नागरिकता संशोधन बिल 2019: अमित शाह के बयान पर मनीष तिवारी का पलटवार, कहा- ये संविधान के खिलाफ

असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल 2019 की कॉपी फाड़ी

गौरतलब है कि इससे पहले ग्रहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में बिल पेश करने के बाद कहा कि इस विधेयक के जरिये हम किसी का अधिकार नहीं छीन रहे हैं बल्कि हम लोगों को अधिकार दे रहे हैं.