देश की खबरें | चुनाव में 'खदेड़ा' तो होगा ही, उप्र से भाजपा का सफाया भी होगा : अखिलेश यादव

आजमगढ़/लखनऊ, 28 अक्टूबर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बृहस्पतिवार को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला बोलते हुए कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा का उत्तर प्रदेश से सफाया हो जाएगा।

सपा प्रमुख ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र आजमगढ़ के दुर्गा जी इंटर कॉलेज में मेधावी छात्रों को लैपटॉप वितरित करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही।

उन्होंने कहा, ‘‘आजमगढ़ समाजवादी लोगों का गढ़ है और इस बार ऐसा कुछ होगा जिसकी भाजपा ने कल्पना भी नहीं की होगी। भारतीय जनता पार्टी का सफाया होगा क्योंकि इन लोगों ने आपकी नौकरी का सफाया किया है।’’

समाजवादी पार्टी (सपा) और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव गठबंधन कर लड़ने का औपचारिक ऐलान किया था।

सुभासपा के 19वें स्थापना दिवस के मौके पर यहां आयोजित 'वंचित, पिछड़ा, दलित और अल्पसंख्यक भागीदारी महापंचायत' में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और सुभासपा के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी द्वारा दिए गए 'खेला होबे' के नारे की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में 'खदेड़ा होवे' का नारा दिया।

बृहस्पतिवार को आजमगढ़ में किसानों से मुखातिब होते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ‘‘किसान भाइयों बताओ आप भाजपा का सफाया करोगे कि नहीं, आपकी फसल चौपट हो गई, नौकरी/रोजगार हैं नहीं, नौजवान क्या सपने देखें, जब तक नौजवान सपने नहीं देखेगा तब तक देश तरक्की नहीं कर सकता है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश को समस्‍याओं का प्रदेश बना दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मैंने अपनी सरकार में नई पीढ़ी को लैपटॉप दिया। मैंने कहा था कि जब कोई नया सपना देखोगे तो यह लैपटॉप मदद करेगा। किसी भी गांव में चले जाओगे तो कोई न कोई बच्चा जरूर मिल जाएगा जिसके पास हमारा दिया लैपटॉप होगा और उसे ऑन करोगे तो आज भी नेताजी (मुलायम सिंह यादव) और हम ही लोग नजर आएंगे।’’

आजमगढ़ के मेधावी छात्रों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यह जो बच्चे बैठे हैं यह सभी मेधावी छात्र हैं, जिन्होंने अपने परिश्रम से, अपनी मेहनत से, कठिन परीक्षा को पास कर सबसे अच्छे नंबर प्राप्त किए हैं। जिस समय इनका रिजल्ट और परिणाम आया मुझे लगा कि सरकार के लोग इन बच्चों का सम्मान करने का काम करेंगे। मुझे इसलिए भी लगा क्योंकि भारतीय जनता पार्टी का घोषणापत्र मैंने पढ़ा था। भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र में लिखा है कि जो बच्चे आगे पढ़ने जाएंगे उनको लैपटॉप दिया जाएगा, टैबलेट दिए जाएंगे और साथ ही साथ डेटा भी फ्री दिया जाएगा, उन संस्थानों को वाईफाई से जोड़ा जाएगा।’’

यादव ने कहा, ‘‘आज लगभग साढ़े चार साल पूरे हो गए, इनका कार्यकाल खत्म होने जा रहा है। राज्य की 24 करोड़ जनता इन्हें ढूंढ रही है।’’

सपा प्रमुख ने कहा, ‘‘बाबा मुख्‍यमंत्री (योगी आदित्‍यनाथ) बहुत चिंतित हैं, बहुत सोच विचार में पड़ गये हैं कि कौन आ रहा है, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि इस बार राज्य की जनता ने, 24 करोड़ लोगों ने तय किया कि झूठा वादा करने वालों का हटाना है।’’

यादव ने कहा कि सपा की सरकार आएगी तो मेधावी छात्रों को लैपटॉप दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि यह नाम बदलने वाली, रंग बदलने वाली, शिलान्यास का शिलान्यास और उद्घाटन का उद्घाटन करने वाली सरकार है।

लखीमपुर में हुई हिंसा की ओर इशारा करते हुए सपा प्रमुख ने कहा, ‘‘किसान हक मांग रहे थे तो टायर तले कुचल दिया और गृह राज्य मंत्री ने कानून को कुचल दिया। ये दोबारा आ गये तो बाबा साहब भीम राव आंबेडकर के बनाये हमारे संविधान को भी कुचल देंगे, इसलिए 2022 में भाजपा का सफाया करना है।’’

इस मुद्दे पर बिना किसी का नाम लिए उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, ‘‘चुनावी भाषण एक बात है। ऐसा लगता है कि उन्होंने उचित जानकारी की कमी के कारण यह बयान दिया है।’’

शर्मा ने कहा, ‘‘योगी को ई-कैबिनेट रखने का श्रेय दिया जाता है और सरकार ने इस साल फरवरी में विधानसभा में एक ई-बजट पेश किया। सपा विधायकों ने ई-बजट का बहिष्कार किया क्योंकि वे तकनीकी जानकारी के अभाव के कारण प्रशिक्षण सत्र में आने में विफल रहे थे।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)