देश की खबरें | एसपीएससी भर्ती घोटाला: सुरजेवाला ने स्वतंत्र जांच की मांग उठायी, आरोपियों को मुख्यमंत्री का संरक्षण मिलने का आरोप लगाया

चंडीगढ़, 25 नवंबर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बृहस्पतिवार को हरियाणा में ''डेंटल सर्जन'' की भर्ती में कथित घोटाले की स्वतंत्र जांच की मांग उठायी और कहा कि इस मामले में ''सत्ता के उच्च पदों पर बैठे लोगों की भूमिका'' को सामने लाना जरूरी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ''देश के सबसे बड़े भर्ती घोटाले'' में चीजों को छिपाने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस महासचिव ने पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की निगरानी में एक विशेष दल द्वारा जांच की मांग की।

सुरजेवाला ने कहा कि कथित घोटाले के सिलसिले में अब तक गिरफ्तार किए गए लोग राजनीतिक संरक्षण के बिना इसे अंजाम नहीं दे सकते थे।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ''हरियाणा लोक सेवा आयोग (एचपीएससी) के उप सचिव अनिल नागर और अन्य की हालिया गिरफ्तारी से यह स्पष्ट हो गया है कि यह देश का सबसे बड़ा भर्ती घोटाला है।''

सुरजेवाला ने आरोप लगाया, ''घोटाले का पर्दाफाश करने के बजाय सरकार चीजों पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही है।''

राज्य सतर्कता ब्यूरो ने पिछले हफ्ते नागर और दो अन्य को डेंटल सर्जन की भर्ती के लिए एचपीएससी द्वारा आयोजित लिखित परीक्षा में शामिल उम्मीदवारों के अंकों में हेरफेर करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। नागर पर कई करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)