विदेश की खबरें | इस्लामिक स्टेट से जुड़े होने के आरोपी पाकिस्तानी डॉक्टर का अमेरिका में होगा मनोवैज्ञनिक परीक्षण

डॉक्टर पर आरोप है कि उसने एफबीआई के मुखबिरों को बताया था कि वह इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन से जुड़ा हुआ है और अमेरिका में ‘लोन वुल्फ’ हमला करना चाहता है।

मुहम्मद मसूद पर विदेशी आतंकी संगठन को सहायता मुहैया कराने का आरोप है।

यह भी पढ़े | Indonesia: मास्क पहनने से मना करने वाले आठ लोगों को दी गई कब्र खोदने की सजा.

वह 19 मार्च को गिरफ्तारी के बाद से मिनियापोलिस-सेंट पॉल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हिरासत में है।

संघीय मजिस्ट्रेट न्यायाधीश के आदेश के अनुसार मसूद पर मुकदमा चलने की स्थिति में वह अपना बचाव कर सकने में सक्षम है या नहीं यह जानने के लिए मनोवैज्ञानिक परीक्षण किया जाएगा।

यह भी पढ़े | नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी शर्मा ओली ने दी PM मोदी को जन्मदिन की बधाई, कहा- हम दोनों अपने देशों को और मजबूत बनाने के लिए मिलकर काम करना रखेंगे जारी.

मसूद के वकील ने कहा कि प्रतिवादी अदालत की कार्यवाही नहीं समझ सकता।

अभियोजन पक्ष का कहना है कि मसूद अमेरिका में काम करने के वीजा पर आया था।

अभियोजन पक्ष के अनुसार जनवरी से मार्च के बीच मसूद ने मुखबिरों को कई बार बताया कि वह इस्लामिक स्टेट से जुड़ा है।

मसूद यह मानता था कि मुखबिर भी आतंकी संगठन से संबंध रखते हैं।

अदालत के दस्तावेजों में उस क्लिनिक का नाम नहीं है जहां मसूद काम करता था।

मेयो क्लिनिक ने इस बात की पुष्टि की है कि मसूद पहले वहां काम करता था लेकिन गिरफ्तारी के वक्त वह चिकित्सा केंद्र का कर्मचारी नहीं था।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)