देश की खबरें | घाटी में कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल से मुलाकात करेगा पीएजीडी

श्रीनगर, 14 मई गुपकार घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) ने घाटी में कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा के संबंध में बातचीत करने के लिए जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मिलने का समय मांगा है। एक प्रवक्ता ने शनिवार को यहां यह जानकारी दी।

समूह की बैठक के बाद पीएजीडी के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के आवास के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए प्रवक्ता एम वाई तारिगामी ने कहा कि बडगाम में कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या ने कश्मीरी समाज को झकझोर कर रख दिया है।

गौरतलब है कि 2010-11 में जम्मू-कश्मीर में प्रवासियों के लिए विशेष रोजगार पैकेज के तहत क्लर्क की नौकरी पाने वाले भट्ट की आतंकवादियों ने बृहस्पतिवार को बडगाम जिले के चदूरा कस्बे में गोली मारकर हत्या कर दी थी।

प्रवक्ता ने कहा, ''कश्मीरी पंडितों का एक प्रतिनिधिमंडल पीएजीडी के सामने अपनी चिंताओं को रखना चाहता था। वह हमसे मिले और हमने उनसे कहा कि जहां तक ​​हमारा और लोगों का सवाल है, इस तरह की दर्दनाक घटना अब यहां आये दिन होती रहती है, लेकिन राहुल की हत्या ने हमें झकझोर कर रख दिया है।''

तारिगामी ने कहा कि हत्या ने पूरे समाज को परेशान कर दिया है और कश्मीर के लोग इस दुख की घड़ी में अपने पंडित भाइयों के साथ खड़े हैं।

उन्होंने ने कहा, ''हम सभी से कश्मीर की भाईचारे की परंपराओं को बनाये रखने की अपील करते हैं, क्योंकि हमारी सुरक्षा एक दूसरे के साथ है और हमारी ओर से जो कुछ भी किया जा सकता है, हम निश्चित रूप से करेंगे। लेकिन, जिम्मेदारी सरकार की होती है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पीएजीडी नेतृत्व ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल के साथ बैठक के लिए राजभवन से संपर्क किया है और हम उनके समक्ष इस तरह के मुद्दों का समाधान किये जाने का आग्रह करेंगे।’’

पीएजीडी के प्रवक्ता ने कहा कि गठबंधन उपराज्यपाल सिन्हा को यह भी बताएगा कि बडगाम में शुक्रवार को एक विरोध प्रदर्शन के दौरान कश्मीरी पंडितों पर हुए लाठीचार्ज की घटना बहुत ही निंदनीय और दुर्भाग्यपूर्ण थी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)