देश की खबरें | छत्रसाल स्टेडियम विवाद मामले में ओलिंपिक पदक विजेता सुशील कुमार का करीबी गिरफ्तार

नयी दिल्ली, 22 जुलाई दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के एक करीबी सहयोगी को छत्रसाल स्टेडियम में हुए विवाद के सिलसिले में बृहस्पतिवार को गिरफ्तार कर लिया। इस घटना में 23 वर्षीय एक पहलवान की मौत हो गई थी।

आरोपी एवं पहलवान सुरजीत ग्रेवाल ने राष्ट्रीय स्तर पर दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया है और 2018 में अपना अंतिम स्वर्ण पदक जीता है। उन्होंने तीन बार विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया और प्रो-रेसलिंग लीग में भी भाग लिया।

पुलिस ने कहा कि अब तक इस मामले में 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें सुशील कुमार भी शामिल हैं, जो हत्या, गैर इरादतन हत्या और अपहरण के आरोपों का सामना कर रहे हैं और फिलहाल तिहाड़ जेल में कैद हैं।

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने कहा, "ग्रेवाल, कुमार का करीबी सहयोगी है और उसकी गिरफ्तारी पर 50,000 रुपये का इनाम था। बुधवार को सूचना मिली थी कि आरोपी हरियाणा के भिवानी जिले में अपने पैतृक गांव बमला आएगा। इस सूचना के आधार पर जाल बिछाकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।"

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान ग्रेवाल ने चार और पांच मई की दरमियानी रात को छत्रसाल स्टेडियम में हुई घटना का घटनाक्रम बताया, जहां सुशील कुमार और उनके साथियों ने संपत्ति विवाद को लेकर पहलवान सागर धनखड़ और उसके दो दोस्तों सोनू और अमित कुमार पर हमला किया था।

पुलिस ने बताया कि गंभीर रूप से जख्मी धनखड़ ने बाद में दम तोड़ दिया।

सुशील कुमार को सह आरोपी अजय कुमार के साथ 23 मई को बाहरी दिल्ली के मुंडका इलाके से गिरफ्तार किया गया था।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)