देश की खबरें | कुशीनगर हवाई अड्डे को मिला विमान सेवा शुरू करने का लाइसेंस

लखनऊ, 23 फरवरी उत्तर प्रदेश के कुशीनगर स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने लाइसेंस जारी कर दिया है। इसके साथ ही यहां से देश-विदेश के लिए उड़ान सेवा शुरू होने का रास्ता साफ हो गया है।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि डीजीसीए ने सोमवार को कुशीनगर अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से विमान सेवाओं के संचालन के लिये एयरोड्रोम लाइसेंस प्रदान कर दिया है। इसके साथ ही यहां से देश-विदेश के लिए उड़ान शुरू कराने का रास्ता साफ हो गया है। लखनऊ और वाराणसी के बाद कुशीनगर उत्तर प्रदेश का तीसरा लाइसेंसप्राप्त हवाई अड्डा बन गया है।

उन्होंने बताया कि कुशीनगर हवाई अड्डे पर विमान सेवाओं का संचालन शुरू हो जाने से प्रदेश के पूर्वी क्षेत्र में रोजगार के अनेक अवसर सृजित होंगे और पूरे क्षेत्र का सामाजिक और आर्थिक विकास होगा।

प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पर्यटकों एवं तीर्थयात्रियों को सीधी विमान सेवा उपलब्ध कराने के लिए कुशीनगर हवाई अड्डे के विकास का निर्णय लिया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2020 में इसे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित किया था।

उन्होंने बताया कि पूर्व में कुशीनगर के कसया क्षेत्र में तत्कालीन राज्य सरकार ने 101 एकड़ भूमि पर हवाई पट्टी निर्माण किया था। बाद में 15 जनवरी 2010 को इसे अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया था। इसके लिए राज्य सरकार ने कुल 589.35 एकड़ भूमि खरीदी थी लेकिन उसके बाद कोई निर्माण शुरू नहीं हो सका।

प्रवक्ता के मुताबिक, वर्तमान प्रदेश सरकार ने कुशीनगर हवाई अड्डे के निर्माण के लिये 199.42 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की और विकास कार्यों को तेज गति से पूरा कराया।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)