देश की खबरें | कुंबले ने आईपीएल मैचों के दौरान अधिकतम बाउंड्री रखने की वकालत की

नयी दिल्ली, 16 मई महान स्पिनर अनिल कुंबले को डर है कि अगर क्रिकेट का खेल बल्लेबाजों के पक्ष में झुका रहा तो अगले कुछ वर्षों में काफी अधिक युवा गेंदबाजी करने के लिए तैयार नहीं होंगे। उन्होंने गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बहाल करने के लिए आईपीएल स्थलों में जितनी अधिक लंबी संभव हो उतनी बाउंड्री रखने और गेंद में अधिक उभरी हुई सीम रखने वकालत की।

मौजूदा सत्र में छोटी बाउंड्री, सपाट पिचों और इंपेक्ट खिलाड़ी नियम के कारण बल्लेबाजी में मदद मिलने के कारण 250 रन से अधिक का स्कोर आठ बार बन चुका है।

महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर की तरह कुंबले को भी लगता है कि अधिकतम बाउंड्री रखना समय की मांग है।

सभी प्रारूपों में भारत के सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज कुंबले ने ‘जियो सिनेमा’ द्वारा चयनित मीडिया से कराई बातचीत के दौरान कहा, ‘‘यह वास्तव में गेंदबाजों के लिए कठिन रहा है, खासकर टूर्नामेंट के पहले भाग में। मैं निश्चित रूप से मानता हूं कि आपको हर स्थान पर अधिकतम बाउंड्री रखने की जरूरत है। कोशिश करें और स्थल पर सबसे बड़ी बाउंड्री बनाएं।’’

उन्होंने कहा, ‘शुरुआत के लिए, आप डगआउट को स्टैंड में ले जा सकते हैं। मुझे पता है कि आप कुछ सीटें खो देंगे लेकिन ऐसा होता है। फिर दूसरा पहलू यह है कि शायद सफेद गेंद पर थोड़ी अधिक उभरी हुई सीम हो जिससे कि थोड़ी अधिक मूवमेंट हो।’’

कुंबले ने कहा, ‘‘हमने देखा है कि गेंद एक ओवर के बाद या कभी-कभी उससे भी कम समय में स्विंग करना बंद कर देती है। आपको बल्ले और गेंद के बीच संतुलन की जरूरत होती है। आप सिर्फ दौड़कर नहीं आते रह सकते क्योंकि कुछ वर्षों बाद आपके पास गेंदबाजी से जुड़ने के लिए बहुत अधिक युवा खिलाड़ी नहीं होंगे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हर कोई बल्लेबाज बनना चाहता है। आपको गेंदबाजों को भी इस खेल का हिस्सा बनाने की जरूरत है और संतुलन बहुत महत्वपूर्ण है। मुझे उम्मीद है कि इस पर भी ध्यान दिया जाएगा।’’

आईपीएल के खेलने के हालात के अनुसार खेलने का मैदान स्क्वायर बाउंड्री से बाउंड्री तक न्यूनतम 150 गज (137.16 मीटर) होगा जबकि छोटी बाउंड्री कम से कम 65 गज (59.43 मीटर) की होगी।

रोहित शर्मा की जगह हार्दिक पंड्या को कप्तान बनाना मुंबई इंडियंस के लिए अच्छा नहीं रहा। कुंबले को लगता है कि बदलाव अगले सत्र में हो सकता था जब बड़ी नीलामी होती।

उन्होंने कहा, ‘‘जो बदलाव हुआ वह थोड़ा अचानक था। बेशक रोहित शर्मा पिछले 10 वर्षों से मुंबई इंडियंस का हिस्सा हैं और फिर पांच खिताबों के लिए टीम का नेतृत्व किया। वह इस साल रोहित को ही जिम्मेदारी दे सकते थे और फिर शायद हार्दिक अगले साल आता लेकिन नेतृत्व करने वालों ने यह फैसला किया। लेकिन मुझे नहीं लगता कि उन्होंने अच्छी क्रिकेट खेली।’’

भारत ने टी20 विश्व कप टीम में चार स्पिनरों को चुना है जिसमें युजवेंद्र चहल की वापसी हुई है जो कुलदीप यादव के साथ कलाई के दूसरे स्पिन विकल्प होंगे। ऑलराउंडर अक्षर पटेल और रविंद्र जडेजा भी स्पिन में विकल्प प्रदान करते हैं।

कुंबले ने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आयरलैंड के खिलाफ पहले मैच में कौन शुरुआत करेगा। निश्चित रूप से कुलदीप। मुझे नहीं पता कि पिच की स्थिति क्या है। मुझे नहीं लगता कि फोर्ट लॉडरडेल के अलावा किसी भी भारतीय टीम ने अमेरिका में खेला है। तो यह सब पिच की स्थिति पर निर्भर करता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इस लिहाज से शायद कुलदीप नंबर एक स्पिनर होगा क्योंकि वह आपका कलाई का स्पिनर है। मुझे यकीन है कि एक कलाई का स्पिनर होगा जो खेलेगा।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)