देश की खबरें | केजरीवाल ने झुग्गी वासियों के लिए फ्लैट निर्माण की प्रगति की समीक्षा की

नयी दिल्ली, आठ अप्रैल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आप सरकार की पुनर्वास नीति के तहत झुग्गी वासियों के लिए फ्लैटों के निर्माण में प्रगति की बृहस्पतिवार को समीक्षा की और लाभार्थियों को उनके आवंटन में तेजी लाने के निर्देश दिए।

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के लिए 237 एकड़ भूखंड पर 89,400 फ्लैटों का निर्माण 2025 तक तीन चरणों में होना है। इन फ्लैटों का निर्माण ‘जहां झुग्गी वहीं मकान’ नीति के तहत किया जाएगा। इन फ्लैटों को झुग्गियों के पांच किलोमीटर के दायरे में बनाया जा रहा है।

दिल्ली सरकार द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, केजरीवाल ने अधिकारियों को योजना के कार्यान्वयन में आने वाली बाधाओं पर गौर करने को कहा ताकि उन्हें प्रभावी रूप से हटाया जा सके और झुग्गी-झोपड़ियों में रह रहे परिवारों को जल्द ही उनके फ्लैटों में भेजा जा सके।

दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डीयूएसआईबी) के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री केजरीवाल को बताया कि इस योजना के तहत 18,084 फ्लैट "लगभग" तैयार हो चुके हैं।

समीक्षा बैठक में शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन और डीयूएसआईबी तथा दिल्ली राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम (डीएसआईआईडीसी) के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

अधिकारियों ने बताया कि डीएसआईआईडीसी द्वारा 34,260 फ्लैट बनाए जा रहे हैं, जिनमें 17,660 फ्लैट तैयार हैं और 16,600 निर्माणाधीन हैं।

उन्होंने कहा कि 4,833 फ्लैट आवंटित किए जा चुके हैं, जबकि 7,031 फ्लैटों के आवंटन की प्रक्रिया चल रही है, जो जल्द ही पूरी हो जाएगी।

बयान के अनुसार पहले चरण में दिल्ली सरकार 52,344 फ्लैटों का निर्माण कर रही है जिन्हें 2022 तक पूरा और आवंटित किया जाएगा। दूसरे चरण में करीब 18,000 फ्लैटों का निर्माण होना है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)