देश में अप्रैल के दौरान Corona के 66 लाख से अधिक मामले सामने आए, 2020 में महामारी की शुरुआत के बाद संक्रमण के मामलों को लेकर साबित हुआ सबसे खराब महीना
प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo: PTI)

नयी दिल्ली, 30 अप्रैल. देश में अप्रैल के दौरान कोविड-19 के 66 लाख से अधिक नये मामले सामने आए जोकि पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद संक्रमण के मामलों को लेकर सबसे खराब महीना साबित हुआ है. अप्रैल महीने में दर्ज किए गए नए मामले पिछले छह महीनों में सामने आए मामलों से अधिक रहे जो कि संक्रमण की दूसरी लहर की गंभीरता को दर्शाता है. देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3.86 लाख से अधिक नए मामले सामने आए जिसके साथ ही संक्रमित लोगों का अब तक का आंकड़ा बढ़कर 1,87,67,962 तक पहुंच गया जबकि मार्च के अंत तक मामलों की संख्या 1,21,49,335 थी. यह भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने अधिकारियों को लगाई फटकार, कहा- कोरोना महामारी की दूसरी लहर राष्ट्रीय संकट, इंटरनेट पर मदद मांगने पर रोक न लगाई जाए.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अप्रैल के बाद से संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं। पांच अप्रैल से प्रतिदिन एक लाख से अधिक मामले सामने आने लगे जबकि 15 अप्रैल से इनकी संख्या प्रतिदिन दो लाख को पार कर गई और 22 अप्रैल से रोजाना तीन लाख से अधिक मामले दर्ज किए जा रहे हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि पिछले चार सप्ताह में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, झारखंड, पंजाब, मध्य प्रदेश और राजस्थान में परिस्थितियां अधिक चिंताजनक हुई हैं.