देश की खबरें | कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से दिल्ली के लिए पहली घरेलू उड़ान शुक्रवार से

गोरखपुर, 24 नवंबर कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से दिल्ली के लिए पहली घरेलू उड़ान शुक्रवार को रवाना होगीं।

हवाई अड्डा निदेशक ए. के. द्विवेदी ने बताया, ‘‘शुक्रवार से, कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा संचालित हो रहा है। स्पाइसजेट कुशीनगर और दिल्ली के बीच एक उड़ान सेवा शुरू कर रहा है। अगले महीने से और दो शहरों के लिए उड़ानें हवाई अड्डे से शुरू होंगी। इनमें कोलकाता के लिए 17 दिसंबर से और मुंबई के लिए 18 दिसंबर से उड़ानें शुरू होंगी।’’

कुशीनगर में बने इस अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 अक्टूबर को किया था ।

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से पहली यात्री उड़ान सेवा 26 नवम्बर को शुरू हो रही है। इस दिन विमानन सेवा प्रदाता कम्पनी स्पाइस जेट का विमान दिन में 12 बजे दिल्ली से उड़ान भरकर 1:35 बजे कुशीनगर पहुंचेगा। यानी सड़क मार्ग से लगने वाला अमूमन 15 घण्टे का समय महज डेढ़ घण्टे में सिमट जाएगा। कुशीनगर से दिल्ली की फ्लाइट 1:55 बजे उड़ान भरेगी और लैंडिंग शाम 3:55 बजे होगी। कुशीनगर से दिल्ली पहुंचने में सिर्फ दो घण्टे लगेंगे।

दिल्ली से कुशीनगर और कुशीनगर से दिल्ली के बीच यह सेवा सप्ताह में चार दिन, सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और रविवार को उपलब्ध होगी।

एक सरकारी बयान के मुताबिक इसके साथ ही दिसम्बर माह में कुशीनगर से कोलकाता और मुंबई के लिए भी हवाई सेवा प्रारम्भ हो जाएगी। इसके लिए भी स्पाइस जेट ने एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया से मंजूर शेड्यूल जारी कर दिया है। कोलकाता के लिए 17 दिसम्बर और मुंबई के लिए 18 दिसम्बर से फ्लाइट शुरू होगी। स्पाइस जेट का विमान 17 दिसम्बर को दोपहर में 1:35 बजे कोलकाता से उड़ान भरकर दोपहर बाद 3:20 बजे कुशीनगर पहुंचेगा जबकि 3:40 बजे कुशीनगर से उड़ान भरकर कोलकाता वापसी शाम 5:15 बजे होगी। कुशीनगर-मुंबई के बीच हवाई सेवा सप्ताह में तीन दिन सोमवार, बुधवार व शुक्रवार के लिए होगी।

इसी तरह 18 दिसम्बर को मुंबई से स्पाइस जेट की कुशीनगर के लिए पहली फ्लाइट 12:10 बजे से उड़ान भरकर दोपहर बाद 2:25 बजे पहुंचेगी। कुशीनगर से मुंबई की वापसी उड़ान दोपहर बाद 3 बजे से होगी। वापसी की फ्लाइट शाम 5:35 बजे मुंबई पहुंचेगी। कुशीनगर व मुंबई के बीच उड़ान सुविधा सप्ताह में तीन दिन मंगलवार, बृहस्पतिवार व शनिवार को उपलब्ध होगी।

बयान के मुताबिक कुशीनगर का एयरपोर्ट प्रदेश का तीसरा क्रियाशील अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा है। घरेलू उड़ान शुक्रवार से शुरू हो रही हैं तो अंतरराष्ट्रीय उड़ान के लिए भी ज्यादा देर नहीं है। कई विमानन कम्पनियां इसके लिए सर्वे कर रही हैं। स्पाइस जेट की एक तकनीकी टीम तो इस संबंध में विगत दिनों एयरपोर्ट का सघन निरीक्षण भी कर चुकी है। बुद्धभूमि होने के चलते कुशीनगर से बौद्ध अनुयायी देशों यथा श्रीलंका, जापान, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड, सिंगापुर आदि के लिए फ्लाइट की संभावनाएं अधिक हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)