देश की खबरें | सीबीआई ने घूसखोरी मामले में डीटीसी अधिकारी और पांच अन्य को गिरफ्तार किया

नयी दिल्ली, 29 जून केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) में सलाहकार के रूप में दो उम्मीदवारों की नियुक्ति के लिए 91 हज़ार रुपये की रिश्वत के मामले में डीटीसी के एक उप मुख्य महाप्रबंधक और पांच अन्य कर्मियों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी के बाद सीबीआई ने तलाशी ली, जिसमें उप मुख्य महाप्रबंधक शकील अहमद के पास से लगभग 40 लाख रुपये की नकदी बरामद की गई।

अधिकारियों ने बताया कि अहमद के अलावा एजेंसी ने उसके पूर्व निजी सहायक सुनील, डिपो प्रबंधक, सेक्टर-तीन, रोहिणी, कीर्ति बाला मलिक, सेवानिवृत्त डीटीसी अधिकारी महेंद्र, सेवानिवृत्त सहायक यातायात निरीक्षक सफुज्जमा और डीटीसी अधिकारी जीतू को भी गिरफ्तार किया है।

उन्होंने कहा कि आरोप है कि अलग-अलग राशि के अनुचित लाभ के एवज में डीटीसी में सलाहकार के पद पर एक सेवानिवृत्त सहायक यातायात निरीक्षक (एटीआई) की नियुक्ति में आरोपी अवैध गतिविधियों में संलिप्त थे।

सीबीआई प्रवक्ता जोशी ने कहा, ''जांच के दौरान, उप मुख्य महाप्रबंधक और क्षेत्रीय प्रबंधक (उत्तर), डीटीसी में सलाहकार के रूप में दो उम्मीदवारों की नियुक्ति के एवज में 91 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था। रिश्वत देने वाले सहित पांच अन्य आरोपी भी पकड़े गए थे।''

उन्होंने कहा कि दिल्ली, गुरुग्राम और सोनीपत सहित अन्य जगहों पर आरोपियों के परिसरों की तलाशी ली गई।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)