विदेश की खबरें | भांगड़ा-व्यायाम की ऑनलाइन कक्षा चलाने वाले को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने किया सम्मानित

लंदन, एक अगस्त भारतीय मूल के एक डांसर ने कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान अपनी डांस कक्षाओं को भांगड़ा-व्यायाम की ऑनलाइन कक्षाओं में बदल दिया जिससे प्रभावित होकर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने उन्हें पॉइंट्स ऑफ लाइट सम्मान प्रदान किया है।

राजीव गुप्ता ने लोगों को स्वस्थ रखने के उद्देश्य से लॉकडाउन के दौरान मुफ्त में ऑनलाइन भांगड़ा-व्यायाम कक्षाएं संचालित की।

यह भी पढ़े | नेपाल अब भारत, संयुक्त राष्ट्र और Google को भेजेगा नया अपडेटेड नक्शा, नए मैप में कालापानी, लिपुलेख और लिंपियाधुरा के भारतीय क्षेत्रों को करेगा शामिल.

गुप्ता का मानना है कि तेज गति और ऊंची बीट वाले पारंपरिक भारतीय नृत्य भांगड़ा करने से व्यायाम भी हो जाता है।

उन्होंने इस भावना के साथ सोशल मीडिया मंचों पर भांगड़ा-व्यायाम की कक्षाएं चलानी शुरू की।

यह भी पढ़े | COVID-19 Update: कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से मौत के मामले में तीसरे नंबर पर पहुंचा मेक्सिको.

इसके फलस्वरूप उन्हें पिछले सप्ताह पॉइंट ऑफ लाइट सम्मान से नवाजा गया।

समाज में परिवर्तन लाने वाले लोगों को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री द्वारा यह सम्मान दिया जाता है।

जॉनसन ने गुप्ता को लिखे एक पत्र में कहा, “पिछले कुछ महीनों में आपकी ऑनलाइन भांगड़ा कक्षाओं में भाग लेने वालों में ऊर्जा का संचार हुआ है। कोरोना वायरस से हमारी जंग के दौरान घर पर रहने वाले हजारों लोगों का उत्साहवर्धन हुआ है।”

उन्होंने कहा, “आप इस कठिन समय में बहुत लोगों के लिए पॉइंट ऑफ लाइट साबित हुए हैं।”

प्रधानमंत्री जॉनसन इससे पहले भांगड़ा और भारत में विवाह समारोहों में किए जाने वाले अन्य प्रकार के भारतीय नृत्य के प्रति अपना प्रेम जता चुके हैं । उनकी पूर्व पत्नी मरीना व्हीलर की मां दीप कौर का संबंध पंजाब से था।

गुप्ता ने कहा, “लॉकडाउन के दौरान अपने भांगड़ा-व्यायाम की कक्षाओं से लोगों की सहायता कर मैं गौरवान्वित मसहूस कर रहा हूं।”

उन्होंने कहा, “इस सम्मान के लिए मैं सचमुच आभारी हूं। इसका इतना बड़ा प्रभाव पड़ेगा, यह मैंने नहीं सोचा था।”

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)