कोरोना फंड में लोगों के हर 1 रुपये के बदले सरकार 4 रुपये देगी: इमरान खान
इमरान खान (Photo Credits: Facebook)

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए बनाए गए फंड में अपने देश के लोगों से खुलकर दान देने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि सरकार भी इसमें पीछे नहीं रहेगी, जनता द्वारा दिए गए हर एक रुपये के बदले सरकार चार रुपये का अंशदान देगी. इमरान अपने कुछ मंत्रियों के साथ गुरुवार को मीडिया से मुखातिब हुए और सरकार के एक रुपये के बदले चार रुपये अंशदान के फैसले की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस रिलीफ फंड के पैसे का इस्तेमाल उन लोगों को मदद देने के लिए किया जाएगा जिनका रोजगार इस महामारी के दौरान छिन जाएगा. इसके लिए एक एसएमएस सर्विस जल्द शुरू की जाएगी और लोगों को सरकार को बेरोजगार होने का प्रमाण देना होगा.

इमरान ने कहा कि देश में कोरोना से मौत की दर उससे कम रही है 'जितने का डर था.' उन्होंने कहा, "हमने सोचा था कि अब तक देश के आईसीयू कोरोना मरीजों से भर जाएंगे और उनमें जगह नहीं होगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. कोरोना के मामले और इससे मौतों की संख्या उससे कम रही है जितने का अंदेशा था."

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान में COVID-19 संक्रमण की तीव्रता अभी भी कम: पाकिस्तानी पीएम इमरान खान

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार विदेश में फंसे प्रवासी पाकिस्तानियों को स्वदेश लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. जो लोग लौटना चाहते हैं, उन्हें मदद दी जाएगी. विदेश में काम कर विदेशी मुद्रा कमाकर देश भेजने वाले यह कामगार देश के वीआईपी हैं.