जरुरी जानकारी | पंजाब में गेहूं खरीद 10 अप्रैल से शुरु होगी

चंडीगढ़, आठ अप्रैल पंजाब में गेहूं की खरीद 10 अप्रैल से शुरू होगी और इसके लिए सभी आवश्यक इंतजाम किए गए हैं। प्रदेश के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि चालू सत्र के दौरान, खरीद एजेंसियां, साथ ही एफसीआई, 1,975 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद करेंगी।

उन्होंने कहा कि राज्य के कृषि और किसान कल्याण विभाग ने राज्य की मंडियों में 130 लाख टन गेहूं की आवक की संभावना जताई है।

एक बयान में, मंत्री ने आगे कहा कि राज्य सरकार ने खरीद केंद्रों की संख्या 1,872 से बढ़ाकर 4,000 कर दी है।

आशु ने आगे कहा कि वर्ष 2020-21 के रबी सत्र के दौरान, राज्य सरकार ने केंद्रीय पूल के लिए गेहूं की खरीद करने के मकसद से 50 किलोग्राम के नए जूट के बोरों की व्यवस्था की है।

कोविद -19 स्थिति के कारण, पंजाब सरकार ने पहले एक अप्रैल के बजाय 10 अप्रैल से खरीद सत्र शुरू करने का फैसला किया था। मंत्री ने कहा, खरीद का काम 31 मई तक जारी रखा जाएगा।

उन्होंने यह भी कहा कि किसानों को व्यवस्थित रूप से अपने गेहूं को मंडियों में लाने के लिए राज्य की मंडियों में एक टोकन प्रणाली शुरू की गई है।

इसके अलावा, 'मंडियों' में भी परस्पर शारीरिक दूरी कनाकर रखने के मानदंड लागू किए जाएंगे।

आशु ने कहा कि 'मंडी' मजदूरों को भी मास्क दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि सभी उपायुक्तों को 'मंडियों' में गेहूं की खरीद के लिए पर्याप्त व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया गया है।

किसानों की किसी भी समस्या को सुलझाने के लिए जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष और 'मंडी-वार शिकायत निवारण समितियों' का गठन भी किया गया है। किसानों की शिकायतों का निवारण करने के लिए खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने भी अपने मुख्यालय में एक नियंत्रण कक्ष की स्थापना की है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)