विदेश की खबरें | चीन के किंडरगार्टन में हुए हमले के संदिग्ध की दुर्घटना में मौत
श्रीलंका के प्रधानमंत्री दिनेश गुणवर्धने

लियू शियाओहुई नाम के व्यक्ति ने बुधवार सुबह किंडरगार्टन में चाकू से हमला किया था जिसमें दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। बाद में अस्पताल में इलाज के दौरान दो अन्य की मौत हो गई और हमले में कई अन्य लोग घायल हो गए।

अधिकारियों ने बताया कि लियू घटना के बाद फरार हो गया था।

पुलिस द्वारा शुक्रवार को जारी बयान के अनुसार, बुधवार रात भागते समय वह एक्सप्रेस-वे के पास एक पुलिया में छिप गया। तलाशी दल के करीब आने के बाद, लियू वहां से भागकर एक बाड़ पर चढ़ गया और एक्सप्रेस-वे को पार करते समय एक वाहन से टकरा गया।

पुलिस ने बताया कि लियू को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन बृहस्पतिवार को उसकी मौत हो गई।

गौरतलब है कि बीते कुछ वर्षों में चीन में स्कूलों पर हमले की घटनाएं बढ़ने के बाद सरकार ने स्कूलों की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है।

चीन लोगों को निजी बंदूक रखने की अनुमति नहीं देता, इसलिए यहां अधिकतर हमले चाकू, घर में तैयार विस्फोटकों या पेट्रोल बम से किए जाते हैं। गत एक दशक में हुए ऐसे हमलों में करीब 100 बच्चे एवं वयस्क मारे गए हैं जबकि सैकड़ों लोग घायल हुए हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)